गाज़ियाबाद में एनआईए टीम पर फायरिंग, पथराव, दिल्ली पुलिस का सिपाही जख्मी

गाज़ियाबाद में एनआईए टीम पर फायरिंग, पथराव, दिल्ली पुलिस का सिपाही जख्मी




गाजियाबाद : गाजियाबाद में लुधियाना में आरएसएस नेता रविंद्र गुसाईं की हत्या में आरोपी मलूक को गिरफ्तार करने गई एनआईए और स्थानीय पुलिस टीम पर आरोपी के साथियों ने जानलेवा हमला कर दिया. इस हमले में यूपी पुलिस के एक जवान को गोली लगी है. जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया हैं.

सूचना मिलते ही मौके पर भारी पुलिस बल ने गांव में पहुंचकर मोर्चा संभाल लिया. वहीं हमले के दौरान आरोपी मलूक मौके से फरार हो गया. जिसकी तलाश में पुलिस टीम दबिश दे रही है.

इस हमले में पुलिस टीम की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई हैं. पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को मौके से गिरफ्तार किया है. फिलहाल, पुलिस ने उसके नाम का खुलासा नहीं किया है. बता दें, कि आरएसएस नेता के हत्या में शामिल 2 अन्य संदिग्ध बदमाशों को एनआईए की टीम पहले ही हिरासत में ले चुकी हैं.

मिली जानकारी के अनुसार एनआईए की टीम को गाजियाबाद के थाना भोजपुर इलाके में फरीदनगर नहाली में एक आतंकी के छिपे होने की सूचना मिली थी . सूचना के आधार पर एनआईए की टीम फोर्स के साथ फरीदनगर नहाली पहुंची और आतंकी को पकड़ने के लिए छापेमारी शुरू कर दी. इसी बीच स्थानीय लोगों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरू कर दी . इसके अलावा पुलिस पर जमकर पथराव भी किया गया. इस दौरान पुलिस की गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की गई . इसके बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने भी फायरिंग शुरू कर दी. हालांकि, इस दौरान कोई बदमाश नहीं पकड़ा जा सका, लेकिन एक सिपाही को गोली लगी है . आनन-फानन में सिपाही को गंभीर हालत में मेरठ के अस्पताल में भर्ती कराया गया , जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है.

सूचना के आधार पर गाजियाबाद के करीब 8 थानों की फोर्स और एसएसपी के अलावा तमाम वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए . इसके अलावा एसटीएफ और दिल्ली पुलिस बल भी मौके पर मौजूद हैं. जानकारी के अनुसार फिलहाल पूरे इलाके की घेराबंदी की जा चुकी है . पूरे इलाके में कॉन्बिंग ऑपरेशन चलाने के बाद छिपे आतंकी को गिरफ्तार किए जाने के प्रयास जारी है. आप इन तस्वीरों को देखकर खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि पुलिस की गाड़ी पर भी इलाके के लोगों ने जमकर पथराव किया है . इसके अलावा पुलिस के साथ मारपीट किए जाने की सूचना भी है.