लड़कियों को थोक सप्लायर था बाबा? 14 तालों में बंद थीं 41 लड़कियां, कोठों पर होगी तलाश

लड़कियों को थोक सप्लायर था बाबा? 14 तालों में बंद थीं 41 लड़कियां, कोठों पर होगी तलाश

नई दिल्ली: पुलिस ने आज लगातार दूसरे दिन वीरेंद्र देव के ठिकाने पर छापेमारी की.  दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने बताया आश्रम से 41 नाबालिग लड़कियों को निकाला गया. पुलिस ने आश्रम के 14 दरवाजों को तोड़ा है.

दिल्ली के रोहिणी इलाके में आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के नाम पर लड़कियों का यौन शोषण करने वाले बलात्कारी बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित पर आज बड़ा शिकंजा कसा है.

छापेमारी के दौरान पुलिस के साथ दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल भी मौजूद रहीं. छापेमारी के बाद स्वाति मालीवाल ने बताया कि बाबा के आश्रम में बड़ी मात्रा में अश्लील सामिग्री बरामद हुई है.

स्वाति मालीवाल ने बताया कि जब उन्होंने बाबा के आश्रम का पानी पिया तो दो तीन घंटे तक चक्कर आने लगे. उन्होंने बताया कि बाबा के आश्रम में एक भी धार्मिक किताब नहीं बल्कि जो चिट्ठियां बरामद हुईं उनमें भी अश्लील बातें लिखी हैं.

फिलहाल बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित फरार है, वीरेंद्र देव पर लड़कियों ने बलात्कार के आरोप लगाए हैं. एबीपी न्यूज़ पर पीड़ित परिवारों ने बाबा के उत्पीड़न की कहानी सुनाई. एक शिकायतकर्ता के मुताबिक बाबा के आश्रम में रह रही उनकी बहन 9 अक्टूबर से लापता है.

आपको बता दें कि बलात्कारी बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित खुद को कृष्ण बताता है. शिकायतकर्ता के मुताबिक बाबा लड़कियों को यौन संबंध बनाने से पहले एक पुड़िया देता था. इसे गुप्त प्रसाद बताता था.

इस के बाद लड़कियां बेहोश हो जाती थीं. बाबा लड़कियों का ब्रेनबॉश करता था. इसके साथ ही बाबा लड़कियों को जान से मारने की धमकी भी देता था. पीड़ितों ने बताया कि बाबा लड़कियों से तेल मालिश करवाता था.