केजरीवाल : मैक्स को बचाने में लगे हैं मनोज तिवारी, हमने सैटिंग नहीं की

केजरीवाल : मैक्स को बचाने में लगे हैं मनोज तिवारी, हमने सैटिंग नहीं की

नई दिल्ली :  दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी पर मैक्स अस्पताल को बचाने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि हमने का लाइसेंस रद्द किया क्योंकि उस अस्पताल ने जीते जागते बच्चे को मृत घोषित किया. इस अस्पताल ने पहले भी गलत हरकत की है. जनता बताए कि हमने लाइसेंस रद्द करके ठीक किया या नही. हम प्राइवेट अस्पतालों के खिलाफ नही हैं लेकिन गड़बड़ी मिली तो चुप नही बैठेंगे.

केजरीवाल ने कहा कि मनोज तिवारी मैक्स अस्पताल का समर्थन कर रहे है. बीजेपी मैक्स अस्पताल के साथ खड़ी है. केजरीवाल ने संकेतों में आरोप लगाया कि बीजेपी न मैक्स के साथ कुछ गड़बड़ किया है. उन्होंने कहा कि अगर हम चाहते तो मैक्स से सेटिंग कर लेते, पैसे लेकर चुप हो जाते लेकिन अपनी शक्ल नही दिखा पाते. उन्होंने कहा कि हम हम अपना जमीर बेचने नही आये थे बल्कि जनता का भला करने आये थे.

मनोज तिवारी ने बोली लगाकर मैक्स अस्पताल के साथ जाकर खड़े हो गए हैं क्योंकि अपना जमीर बेच दिया. केजरीवाल ने कहा कि लाइसेंस रद्द होने से बड़े अस्पतालों को सबक मिलेगा. लेकिन बीजेपी नहीं चाहती ऐसा हो. उसका एजेंडा क्या है वो साफ करे.

इससे पहले दिल्ली में मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द करने पर दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार के फैसले पर सवाल उठाए थे. शनिवार को वृंदावन पहुंचे तिवारी ने कहा कि लाइसेंस रद्द करने का केजरीवाल सरकार का फैसला सही नहीं है.

वह शनिवार को वृंदावन में गोशाला नगर स्थित परमेश्वरी देवी धानुका विद्यालय के वार्षिकोत्सव में भाग लेने आए थे. उत्तर पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद और भोजपुरी अभिनेता मनोज तिवारी ने कहा कि एक ओर केजरीवाल सरकार दिल्लीवासियों को प्राइवेट अस्पतालों में इलाज कराने के लिए प्रेरित करती है.

दूसरी ओर मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द करके दोहरी नीति अपना रही है. कहा कि केजरीवाल की करनी और कथनी में बहुत बड़ा अंतर है. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार को अपने सरकारी अस्पतालों को बेहतर बनाने का प्रयास करना चाहिए.