राहुल के रोड शो में मसाला ट्विस्ट, लड़की सेल्फी वाली ने लूट लिया तमाशा, पर मुद्दों का क्या ?

नई दिल्ली : इस देश को सचमुच तमाशा पसंद है. अब जो पसंद है वही हो रहा है. पहले पीएम मोदी ने तरह तरह के तमाशे करके जबरदस्त बहुमत हासिल किया अब कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी इसका आनंद ले रहे है. एसपीजी सिक्टोरिटी के बीच जहां परिंदा भी पर नहीं मार सकता एक लड़की सुरक्षा घेरा तोड़कर राहुल गांधी के पास पहुंचने की कशिश कर रही ती. इस लड़की के हाथ में गुल दस्ता था. वह बार-बार राहुल गांधी के करीब आने की कोशिश कर रही थी तो सुरक्षाकर्मी उसे दूर हटा रहे थे. तभी राहुल गांधी की उसपर नजर पड़ी तो उन्होंने सुरक्षाकर्मियों को इशारा किया कि वे से आने दें.

मौका मिलते ही लड़की झट से गाड़ी के ऊपर चढ़ गई. उसने तुरंत राहुल गांधी को गुलदस्ता दिया. नीचे अपने किसी साथी से मोबाइल फोन मांगा और राहुल के साथ सेल्फी ली. यानी सेल्फी के लिए मोबाइल देने वाला साथी भी राहुल के रोडशो में सुरक्षा तोड़कर घुस चुका था. इसके बाद राहुल गांधी और उस लड़की के बीच कुछ बातें भी हुईं. इसके बाद वह लड़की नीचे उतर कर चली गई.

यानी फुल तमाशा. टेलीविजन का पूरा मसाला. लेकिन इस मसाले में मसले नहीं है. लोगों की बात करने वाला कोई नहीं है. मसले बीच में आ भी रहे हैं तो सरकार को लपटने के दौरान संदर्भ के बीच में. टाटा को नैनों का प्लांट लगाने के लिए मोदी ने जो अनुदान दिया था उसपर हमला करना था तो राहुल ने किसानों के कर्ज की बात कर दी.

जम्बुसर की जनसभा में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने विश्व बैंक की उस रिपोर्ट को खारिज कर दिया जिसमें बताया गया था कि भारत में ‘कारोबार में आसानी’ का स्तर सुधरा है. उन्होंने वित्त मंत्री अरूण जेटली से कहा कि वास्तविकता को समझने के लिए वह छोटे कारेाबारियों के साथ मुलाकात करें.

केंद्र और भाजपा नीत राज्य सरकार पर हमला करते हुए राहुल ने अपनी जनसभा में जीएसटी, जातिगत राजनीति और कॉर्पोरेट का पक्ष लेने जैसे विस्तृत मुद्दों पर अपनी बात रखी. राहुल गांधी ने कहा, ‘मंगलवार को जेटलीजी ने कहा था कि कुछ विदेशी संगठनों ने यह प्रमाणित किया है कि भारत कारोबार सुगमता में काफी सुधार कर रहा है.’ राहुल ने कहा कि वित्त मंत्री को छोटे एवं मझोले कारोबारियों से पांच से 10 मिनट के लिये मुलाकात करना चाहिए और यह पूछना चाहिए क्या हकीकत में कारोबार सुगमता में सुधार हुआ है.

राहुल ने कहा, ‘समूचा देश चीख चीखकर यही कहेगा कि कारोबार सुगमता नदारद है. आपने इसे बर्बाद किया है, आपकी नोटबंदी और जीएसटी ने इसे बर्बाद कर दिया है.’ इससे पहले दिन में राहुल ने गालिब की शायरी का सहारा लेते हुए ट्वीट कर कहा था कि जेटली खुशफहमी में खुद को बहला रहे हैं.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘सबको मालूम है ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ की हकीकत, लेकिन खुद को खुश रखने के लिए ‘डॉ. जेटली’ ये ख्याल अच्छा है.’

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें