लाल चौक पर फारूख अब्दुल्ला को थप्पड़ मारना चाहता है ये बीजेपी नेता, इस्तीफा दिया

लाल चौक पर फारूख अब्दुल्ला को थप्पड़ मारना चाहता है ये बीजेपी नेता, इस्तीफा दिया

नई दिल्ली : बीजेपी के नेता नेता सूरज पाल अमू ने अब नेशनल कांफ्रेस प्रमुख और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला को थप्पड़ मारने की धमकी दी है. बुधवार को हरियाणा बीजेपी के मुख्‍य मीडिया को-आर्डिनेटर के पद से इस्तीफा देने के बाद अमू ने कहा है कि अब्दुल्ला को झापड़ मारना उनका सपना है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘अब मेरा सपना है कि मैं लाल चौक में फारूक अब्दुल्ला को थप्पड़ मारूं, मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वहां आकर मुझसे मिलें.’

वहीं बुधवार को ही अमू ने पार्टी के मीडिया को-आर्डिनेटर के पद से भी इस्तीफा दे दिया है. अमू का कहना है कि वह हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर के व्यवहार से काफी दुखी हैं. उन्होंने कहा, ‘बहुत ही भारी दिल से मैंने अपने पद से इस्तीफा दिया है. मैं हरियाणा सीएम के बर्ताव से काफी दुखी हूं. मैंने आज से पहले कभी भी इतने अभिमानी बीजेपी मुख्यमंत्री को नहीं देखा था, जो पार्टी के कार्यकर्ता और समुदाय के प्रतिनिधियों की इज्जत ना करे.’ दरअसल अमू ने सीएम खट्टर पर आरोप लगाया है कि उन्होंने राजपूत करणी सेना से मिलने का समय दिया था, लेकिन बिना मिले ही वह मीटिंग से निकल गए.

उन्होंने मंगलवार को सीएम खट्टर को धमकी देते हुए कहा था, “मुख्यमंत्री ने राजपूत करणी सेना को मिलने के लिए समय दिया था, लेकिन मीटिंग से पहले ही वे निकल गए. वे उन लोगों से क्यों नहीं मिले जो कि राजस्थान से केवल उनसे मिलने के लिए आए थे. अगर आप हमें पार्टी से निकालना चाहते हैं तो निकाल सकते है लेकिन इस तरह हमारी बेइज्जती मत करो.”

इससे पहले अमू ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा ‘पद्मावती’ फिल्म का समर्थन करने को लेकर उनकी तुलना शूर्पनखा से की थी और उन्हें इशारों-इशारों में धमकी भी दी थी. अमू ने कहा था, ‘राक्षसी प्रवृति की महिलाओं का इलाज किया जाना चाहिए. रामायण में भगवान राम के छोटे भाई लक्ष्मण ने राक्षसी शूर्पणखा की नाक काटकर ऐसा ही किया था, और ये बात ममता जी को नहीं भूलनी चाहिए.’ अमू ने पद्मावती फिल्म की एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण और संजय लीला भंसाली को भी धमकी दी थी. उन्होंने ऐलान किया था कि भंसाली और दीपिका पादुकोण का सिर काटकर लाएगा, उसको 10 करोड़ रुपए दिए जाएंगे. हालांकि उनके इस बयान से बीजेपी ने किनारा कर लिया था और अमू को कारण बताओ नोटिस जारी किया था.