राहुल गांधी ने निर्भया के परिवार का सच्चा साथ दिया,मां ने कहा-धन्यवाद

राहुल गांधी ने निर्भया के परिवार का सच्चा साथ दिया,मां ने कहा-धन्यवाद

नई दिल्ली :  साल 2012 में राजधानी दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप केस ने पूरे देश को हिला कर रख दिया था. पूरे देश का खून खौल गया था. नौजवान सड़कों पर थे. ये गुस्सा कुछ साल चला और सब अपनी ज़िंदगी में व्यस्त हो गए. लेकिन एक शख्स ऐसा था जो लगातार इस परिवार के साथ खड़ा रहा . उसकी मदद करता रहा. वो शख्स था कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी.

मेल टुडे के मुताबिक निर्भया की मां आशा देवी ने राहुल गांधी को धन्यवाद दिया है. आशा देवी का कहना है कि निर्भया का भाई अब पायलट बन गया है. राहुल गांधी ने न सिर्फ उसकी रुपये पैसे से मदद की बल्कि हौसले भी बढ़ाते रहे. निर्भया की मां कहती हैं कि उनका बेटा अगर हादसे के बाद संभल पाया, सही रास्ते पर चला और  आज पायलट है तो वह राहुल गांधी की वजह से ही है.

उन्होंने बताया कि इस हादसे के बाद उनका पूरा परिवार अंदर से टूट चुका था. लेकिन निर्भया के भाई को राहुल ने  अपने लक्ष्य से नहीं भटकने दिय़ा,  उन्होंने बताया कि राहुल गांधी ने न केवल उसकी शिक्षा में मदद की बल्कि वह लगातार उसे फोन करके हौसला भी देते रहे. वो कितने भी व्यस्त रहते लेकिन निर्भया के भाई को समय समय पर फोन करना न भूलते.

जब निर्भया के साथ वह हादसा हुआ था, उस दौरान उनका भाई 12वीं क्लास में पढ़ाई करता था. निर्भया की मां ने बताया कि राहुल ने ही उसे सलाह दी कि वह स्कूल खत्म होने के बाद पायलट की ट्रेनिंग करे.

फिर 2013 में सीबीएसई की परीक्षा देने के बाद निर्भया के भाई ने रायबरेली की इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान एकेडमी में एडमिशन लिया. 18 महीने की ट्रेनिंग के दौरान राहुल उससे फोन पर बात करते थे.

निर्भया की मां के मुताबिक अब उसकी पढ़ाई खत्म हो गई है और गुरुग्राम में ट्रेनिंग चल रही है. वह जल्द ही प्लेन उड़ाएगा.

उनके पिता ने भी एबीपी न्यूज से बातचीत में कहा, “राहुल गांधी की मदद से मेरा बेटा पायलट बन गया है. हमारे बस का तो था नहीं लेकिन राहुल गांधी ने मेरे बेटे को सलाह देने से लेकर हौसला बढ़ाने तक में मदद की.”