जयपुर के नाहरगढ़ किले से लटकी मिली चेतन तांत्रिक की लाश, भड़काऊ नारे भी लिखे

जयपुर के नाहरगढ़ किले से लटकी मिली चेतन तांत्रिक की लाश, भड़काऊ नारे भी लिखे




जयपुर: गुजरात चुनाव से ठीक पहले उभरे पद्मावती विवाद ने खतरनाक सांप्रदायिक मोड़ ले लिया है. राजस्थान के नाहरगढ़ किले की दीवार से एक शख्स की लाश लटकी मिली है और उसके पास कुछ भड़काऊ नारे लिखे हुए पाए गए. लटका मिला शव, ‘पद्मावती का विरोध, हम पुतले नहीं जलाते, लटकाते हैं’

प्रदेश की राजधानी जयपुर में स्थित नाहरगढ़ किले की प्राचीर पर एक व्यक्ति का लटका हुआ शव मिलने से हड़कम्प मच गया है. जिसके साथ एक धमकी भी दी गई है. किले की दीवारों पर लिखा गया है कि पद्मावती का विरोध, हम पुतले नहीं जलाते, लटकाते हैं.

फिलहाल बताया जा रहा है कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. ‘पद्मावती का विरोध’ शीर्षक से दी गई इस धमकी में कहा गया है कि हम पुतले नहीं जलाते, लटका देते हैं. हालांकि करणी सेना ने इस घटना की निंदा की है और कहा है कि उनका इससे कोई लेना-देना नहीं है.

आपको बता दें कि पद्मावती फिल्‍म एक दिसंबर को रिलीज होनी थी लेकिन सेंसर बोर्ड में तकनीकी कारणों और विरोध के चलते फिलहाल फिल्‍म की रिलीज को टाल दिया गया है. इस फिल्‍म मध्‍यप्रदेश, राजस्‍थान और गुजरात के मुख्‍यमंत्रियों ने अपने राज्‍य में रिलीज से पहले ही बैन कर दिया है.

इसी किले में कुछ और पत्थरों पर कोयले से भड़काऊ बयान भी मिले हैं. जाहिर बात है कि सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की कोशिशें तेज़ हैं.