प्रदूषण से घबराएं नहीं ये हैं उपाय, इसे पढ़ लिया तो कुछ नहीं बिगाड़ सकेगी ज़हरीली हवा

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर में फिर से जहरीला स्मॉग छा गया है. इस स्मॉग से लोगों की आंखों में जलन होने लगी है. मौसम विभाग की मानें तो स्मॉग की यह मार अगले दो दिन भी जारी रह सकती है. वहीं हवा की गुणवत्ता खराब होने पर राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा को फटकार लगाई है. एनजीटी ने उनसे यह बताने को कहा कि आज बने ‘आपात हालात’ से निबटने के लिए उन्होंने क्या एहतियाती कदम उठाए.

सोमवार की शाम स्मॉग की वजह से विजिबिलिटी घटकर 500 मीटर तक पहुंच गई थी और आज सुबह हालत और खराब नजर आई. सबह ऐसा लग रहा था दिल्ली-एनसीआर स्मॉग की चादर लपेटे हुए हैं. कई इलाकों में एयर क्वॉलिटी ‘बेहद खराब’ की कैटिगरी में बनी हुई है और इसमें अगले 4-5 दिनों तक कोई सुधार होने की उम्मीद नहीं है. आपको बताते हैं कि प्रदूषण से क्या खतरे हैं और उससे कैसे लड़ाया जा सकता है …

प्रदूषण से होने वाली बीमारियां

हवा में ज़हरीली गैसों की मात्रा बढ़ने से सांस लेने में तकलीफ़ होना, आंखें खुजलाना और आंखों में जलन होना आदि परेशानियां होना आम बात है.इसके अलावा कुछ और भी दिक्कतें हो सकती हैं.

ज़ुकाम होना
खांसी, टीबी और गले में इंफ़ेक्शन
साइनस, अस्थमा
फेफडों सम्बंधित बीमारियां

प्रदूषण के असर को कम करने के टिप्स

हम सभी को रसोई में प्रदूषण के बुरे असर को कम करने वाली अनेक ऐसी वस्तुएं होती हैं, जिनसे हम अपने परिवार का स्वास्थ्य सुधार सकते हैं.

1. गुड़ और शहद : गुड़ और शहद खाने से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है. जिससे हम अनेक बीमारियों से बच सकते हैं. इसका यही गुण प्रदूषण के साइड इफेक्ट को कम करने में भी कारगर है. इसलिए इसे आज ही अपनी डाइट में शामिल कीजिए.
2. लहसुन : ये एक प्राकृतिक एंटीबायोटिक है. लहसुन की कुछ कलियां लें और इन्हें 1 चम्मच मक्खन में पकाकर खाएं. इसे खाने के आधे घंटे पहले और बाद में कुछ नहीं खाएं. प्रदूषण से होने कफ़ को दूर करने में यह घरेलू उपाय बहुत लाभदायक है.
3. ये भी अपनाएं: बढ़ते पोल्यूशन के कारण बार बार ज़ुकाम या सम्बंधित इंफ़ेक्शन हो तो अदरक का सेवन बहुत लाभकारी सिद्ध होता है. एक चम्मच शहद में गुनगुना अदरक का रस मिलाकर दिन में 2 से 3 बार पीने से ज़ुकाम की समस्या ख़त्म हो जाती है.
4. काली मिर्च : छाती में कफ़ की समस्या होने पर काली मिर्च को पीसकर चूर्ण बना लें. 1 चम्मच शहद में थोड़ा सा काली मिर्च पाउडर मिलाकर खाने से फेफड़े साफ़ रहते हैं और जमा कफ़ निकल जाता है.
5. अजवाइन की पत्तियां : नियमित अजवाइन की पत्तियां खाने रक्त शुद्ध होता है. इसके अतिरिक्त फल और सब्ज़ियां अधिक मात्रा में खानी चाहिए. साथ ही पर्याप्त मात्रा में पानी भी पीना चाहिए.

वायु प्रदूषण से बचाव
1. वायु प्रदूषण से बचने के लिए मास्क पहनना चाहिए. इंडस्ट्रियल एरिया में जाना हो तो एंटी पाल्यूशन मास्क और आंखों पर चश्मा लगाकर जाएं. मास्क को बार बार छूना नहीं चाहिए और एक मास्क को एक बार ही प्रयोग करना चाहिए. मास्क का प्रयोग करके आप वायरस और कई प्रकार के इंफ़ेक्शन फैलाने वाले बैक्टीरिया से बच सकते हैं.
2. गर्भवती महिलाओं और बच्चों को वायु प्रदूषण से बचाने के लिए घर में एयर फ़िल्टर मशीन लगवानी चाहिए. इससे सांस की बीमारियां कम होती हैं. घर से बाहर तभी बाहर घूमने टहलने निकलें जब पर्यावरण में प्रदूषण का स्तर कम हो.
3. प्रयोग में आने वाली पेट्रोल डीज़ल से चलने वाली ग‌ड़ियों का नियमित प्रदूषण कार्ट बनवाएँ.
4. बाहर से घर वापस आने के बाद मुँह, हाथ और पैर साफ़ पानी से धोने चाहिए.
5. घर के आस पास कूड़े कचरे को न जलाएं.

सबसे ज़रूरी टिप

सुबह शाम अपने घर के आसपास की धूल भरी जगहों पर पानी का छिड़काव करें. खास तौर पर घर के सामने पानी का छिड़काव जरूर करें.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें