यूपी पुलिस ने आधीरात को संपादक को घर से उठाया, छत्तीसगढ़ के मंत्री को बचाने की कोशिश

यूपी पुलिस ने आधीरात को संपादक को घर से उठाया, छत्तीसगढ़ के मंत्री को बचाने की कोशिश

नई दिल्ली:  देश के बेहद प्रतिष्ठित पत्रकार और एडीटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया के सदस्य विनोद वर्मा को आधी रात को उनके घर से उठा लिया गया है. उन्हें पकड़ने बाकायदा छत्तीसगढ़ की पुलिस आयी है. इंदिरापुरम पुलिस उन्हें उठाकर थाने ले गई और रात को थाने में सख्त पूछताछ की. सूत्रों के मुताबिक विनोद वर्मा से पूछा जा रहा है कि बीजेपी के एक मंत्री और वरिष्ठ नेता के खिलाफ उनके पास सबूतों की जो सीडी है वो कहां से आई.

यानी पत्रकार पर अपने सूत्र बताने के लिए दबाव डाला जा रहा है. दर असल विनोद वर्मा के हाथ एक सीडी लगी है जिसमें छत्तीसगढ़ के एक मंत्री आपत्तिजनक हालत में दिखाई दे रहे हैं. छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी की सरकार है और यूपी में भी. विनोद वर्मा बीबीसी में सीनियर पदों पर रह चुके हैं और अमरउजाला में भी ऑनलाइन के एडीटर थे.

बताया जा रहा है एक पोर्न सीडी रखने का आरोपी बनाया जा रहा है। वह सीडी छत्तीसगढ़ के किसी मंत्री की बताई जा रही है!। उनकी ओर से वकील ओमवीर सिंह और अमित यादव थाने पहुंच चुके हैं। इसके अलावा कई बड़े पत्रकार भी थाने पहुंचे हुए हैं.