ज़ी न्यूज़ से रोहित सरदाना का इस्तीफा, नोटिस के बाद शुरू करेंगे नयी पारी

ज़ी न्यूज़ से रोहित सरदाना का इस्तीफा, नोटिस के बाद शुरू करेंगे नयी पारी

नई दिल्ली : जी न्यूज के स्टार फेस रोहित सरदाना ने ताल ठोक के इस्तीफा दे दिया है. रजत शर्मा के बाद ज़ी को छोड़कर जाने वाले रोहित सरदाना दूसरा स्टार चेहरा है. फिलहाल वे यहां नोटिस पीरियड पर हैं. उन्होंने यहां एक दशक से अधिक की लंबी पारी खेली है. वे साल 2004 से जी न्यूज के साथ जुड़े हुए हैं. इससे पहले वो सहारा समय मध्यप्रदेश के एंकर थे.

माना जा रहा है कि रोहित के लगातार प्रसिद्ध होने लगे थे, उनकी अपनी हैसियत सुधीर चौधरी से बड़ी होने लगी थी. फेसबुक पर उनके अनगिनत फैन्स क्लब ग्रुप थे. बताया जाता है कि इसी कारण सुधीर चौधरी उनकी तरफ से थोड़ा अजीब सा महसूस करने लगे थे. इस बारे में रोहित सरदाना का पक्ष सामने नहीं आ सका है., पर अभी उनसे बात नहीं हो सकी है, पर सूत्रों के अनुसार वे जल्दी ही अपनी नई पारी का आगाज करने जा रहे हैं.

जी न्यूज में वे डिबेट शो ‘ताल ठोक के’ को होस्ट करते हैं, जिसमें देश के कई समकालीन सामाजिक मुद्दों पर चर्चा की जाती है. बड़ी बात ये है कि ये शो पिछले कई समय से अपने टाइम स्लॉट का नंबर वन शो रहता है. इसके अतिरिक्त वे कई अन्य शो की मेजबानी भी करते नजर आते हैं. मोदी और संघ के समर्थन में बातें करने वाले पत्रकारों में भी रोहित सरदाना सबसे आगे रहा करते थे.

राष्ट्रवाद को लेकर कई अहम शो कर चुके रोहित की विशेषता है.  मूल रूप से हरियाणा के कुरुक्षेत्र के रहने वाले सरदाना ने अपनी माध्यमिक शिक्षा यहां के गीता निकेतन आवसीय विद्यालय से की. सरदाना मनोविज्ञान में स्नातक हैं और गुरु जम्भेश्वर यूनिवर्सिटी से मासकॉम में पोस्ट ग्रेजुएट (परास्नातक). ग्रेजुएशन के बाद वे नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा का हिस्सा बने पर वहां का कल्चर पसंद न आने की वजह से वे वहां चंद दिन ही रह पाए. अपने हरियाणवी लहजे के चलते रोहित जब टीवी पर आए, तो उन्होंने कड़ी मेहनत से हिंदी और अंग्रेजी भाषा पर अपना नियंत्रण कर प्रभावशाली एंकरिंग की.

सरदाना ने हिंदी का पहला न्यूज प्रोग्राम ‘कर्मक्षेत्र’ किया, जिसमें उन्होंने मुख्य रूप से रिपोर्टर की भूमिका निभाई. सांसदों पर केंद्रित यह प्रोग्राम सवाल-जवाब के फॉर्मेट में था. ईटीवी, सहारा समय और जी न्यूज के अतिरिक्त सरदाना ने और आकाशवाणी के लिए भी काम किया है.