हनीप्रीत को पंजाब पुलिस ने पकड़ा किया, हरियाणा पुलिस को सौंपा

हनीप्रीत को पंजाब पुलिस ने पकड़ा किया, हरियाणा पुलिस को सौंपा




नई दिल्ली : राम रहीम की सबसे चहेती शिष्या और बेटी हनीप्रीत को गिरफ्तार कर लिया गया है. छुट्टियों से पहले ही दिल्ली हाईकोर्ट ने हनीप्रीत इंसा की अग्रिम जमानत ठुकराते हुए उसे सरेंडर करने की नसीहत दी थी. इससे पहले एसआईटी भी हनीप्रीत इंसा को गिरफ्तार करने की अपनी जुगत में लगी थी.

दिल्ली हाईकोर्ट की नसीहत के बाद से कल तक तो छुट्टियों की वजह से कोर्ट बंद था. 38 दिन से फरार हनीप्रीत आज पंचकूला कोर्ट या फिर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत की गुहार लगाई थी. गौरतलब है कि हनीप्रीत पर राजद्रोह का केस दर्ज हुआ है. उन पर पंचकूला में हिंसा भड़काने के आरोप में सेक्टर-5 थाने में केस दर्ज है. हनीप्रीत पर आरोप है कि उसने साध्वियों से रेप के दोषी राम रहीम को पुलिस कस्टडी से छुड़ाने की साजिश रची थी. गायब रहने के सवाल पर हनीप्रीत ने कहा कि उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा था. उन्होंने बताया कि वह हरियाणा से किसी तरह दिल्ली गई.

अब वह हरियाणा-पंजाब कोर्ट में जाऊंगी.  सरेंडर के सवाल पर हनीप्रीत ने कहा कि वह कानूनी सलाह लेंगी. हनीप्रीत की मानें तो वह कभी भी नेपाल नहीं गई थीं और देश में ही रह रही थीं. उन्होंने बताया कि वह इतनी डरी हुई थी कि अपनी मानसिक स्थिति बयां नहीं कर सकती हूं. उन्हें तो किसी तरह की प्रक्रिया भी नहीं पता थी.

हनीप्रीत ने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि मैं अपने पापा के साथ हेलिकॉप्टर में कैसे गई, तो मैं आपको बता दूं कि यह कोर्ट की इजाजत के बाद हुआ है. अपने ऊपर दंगा भड़काने के आरोपों पर भी बोलते हुए हनीप्रीत ने कहा, ‘आप कोई एक क्लिप ऐसी दिखा दीजिए जिसमें मैं ऐसा कुछ कह रही हूं या कर रही हूं. कुछ लोगों को साजिश के तहत दंगा भड़काने के लिए भेजा गया था.

‘ हनीप्रीत ने कहा कि उनका और राम रहीम का रिश्ता बेहद पवित्र रिश्ता है. यह उतना ही पाक है, जितना बाप-बेटी का रिश्ता होता है. क्या बाप बेटी के सिर पर हाथ नहीं रख सकता? क्या बेटी अपने पिता से लाड़ नहीं कर सकती? इस दौरान जब उनके पूर्व पति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं विश्वास गुप्ता के बारे में बात भी नहीं करना चाहती.’