हत्या की सुपारी लेने वाला साधु गिरफ्तार, अरबपति नेता की सुपारी भी ली थी

नई दिल्ली : वो साधू था. सब लोग उसे महात्मा मानते थे. भजन पूजन करता और उपदेश देता. लेकिन उसकी एक और हकीकत थी वो सुपारी किलर था. नामी लोगों की हत्या की सुपारी लेता और उन्हें उड़वा देता. दिल्ली के अरबपति बीएसपी नेता की हत्या के आरोप में इस साधू को गिरफ्तार किया गया है. इस हत्यारे का नाम महंत प्रतिभानंद था. उसे गाजियाबाद के सिहानी गेट इलाके से गिरफ्तार किया गया है. बसपा नेता दीपक भारद्वाज की हत्या मार्च 2017 में की गई थी. पुलिस ने इस मामले में दीपक भारद्वाज के बेटे और उनके जानकार वकील को पहले ही गिरफ्तार किया था.

पुलिस का कहना है कि दीपक के बेटे ने ही संपत्ति विवाद में उनकी हत्या कराई थी. करीब 500 करोड़ रुपये की संपत्ति का विवाद था. वकील भी प्रॉपर्टी का काम करता था. पुलिस का आरोप है कि महंत प्रतिभानंद ने ही इस मामले में सुपारी ली थी. तभी से महंत प्रतिभानंद फरार था. बाबा की गिरफ्तारी आर्म्स एक्ट के तहत हुई थी.

ऐसे हुई थी बसपा नेता की हत्या
एक स्कोडा कार में सवार दो लड़के दोपहर में बसपा नेता के रजोरी इलाके के 34 एकड़ के फॉर्महाउस में घुसे और ताबड़तोड़ गोलियां मारकर बसपा नेता की हत्या कर दी. ये पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हुई थी. इस मामले में पुलिस बसपा नेता के छोटे बेटे नीतेश और उसके एक जानकार वकील बलजीत सहरावत को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है. पुलिस ने दावा किया था कि नीतेश ने ही पांच करोड़ की सुपारी देकर अपने पिता की हत्या करवाई. पुलिस ने मर्डर में इस्तेमाल होने वाली पिस्तौल भी रोहतक की नहर से बरामद कर लिया था.










बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें