जेटली ने अर्थव्यवस्था को डुबो दिया, आवाज़ उठाने वाले तीसरे वित्तमंत्री बने यशवंत सिन्हा

जेटली ने अर्थव्यवस्था को डुबो दिया, आवाज़ उठाने वाले तीसरे वित्तमंत्री बने यशवंत सिन्हा

नई दिल्ली: एक एक कर देश के सभी पूर्व वित्त मंत्री मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर हमले कर रहे हैं. मनमोहन सिंह, पी. चिदंवरम के बाद अब खुद बीजेपी के वित्त मंत्री रहे यशवंत सिन्हा ने गिरती अर्थव्यवस्था को लेकर अरुण जेटली पर निशाना साधा है. इंडियन एक्सप्रेस के एक लेख में यशवंत सिन्हा ने कहा कि नोटबंदी ने देश की अर्थव्यवस्था का बेड़ा गर्क कर दिया. जीडीपी पहले ही गिर रही थी और नोटबंदी ने उसे पूरी तरह तबाह कर दिया. इससे पहले सुब्रहमण्यम स्वामी भी जेटली पर हमले कर चुके हैं.

सिन्हा ने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि उन्होंने गरीबी को काफी करीब से देखा है, अब जिस तरीके से उनके वित्त मंत्री काम कर रहे हैं, उससे ऐसा लगता है कि वे सभी भारतीयों को गरीबी पास से दिखाएंगे. सिन्हा ने कहा कि आज के समय में न ही नौकरी मिल रही है और न ही विकास तेज़ हो रहा है, जिसका सीधा असर इन्वेस्टमेंट और जीडीपी पर पड़ा है.

जेटली पर निशाना साधते हुए सिन्हा ने कहा कि अभी तक जेटली इस सरकार में सबसे बड़ा चेहरा रहे हैं. कैबिनेट में नाम तय होने से पहले ही उनका नाम तय था कि जेटली वित्तमंत्रालय संभालेंगे. लोकसभा चुनाव हारने के बावजूद उन्हें मंत्री बनाया गया. सिन्हा ने कहा कि इससे पहले अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में जसवंत सिंह और प्रमोद महाजन भी वाजपेयी के करीबी थे, लेकिन इसके बाद भी उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया था. लेकिन जेटली को वित्त मंत्रालय के साथ ही रक्षा मंत्रालय भी मिला.

यशवंत सिन्हा के इस लेख का शीर्षक ‘I need to speak up now’ (मुझे अब बोलना ही होगा) है. उन्होंने लिखा है, ”देश के वित्त मंत्री ने अर्थव्यवस्था की हालत जो बिगाड़ दी है, ऐसे में अगर मैं अब भी चुप रहूं तो ये राष्ट्रीय कर्तव्य के साथ अन्याय होगा.”

यशवंत ने लिखा है, ”मुझे इस बात का भी भरोसा है कि मैं जो कुछ कह रहा हूं, यही भाजपा के और दूसरे लोग मानते हैं लेकिन डर की वजह से ऐसा कहेंगे नहीं.”

उन्होंने लिखा है कि अरुण जेटली को सरकार में बेस्ट माना जाता रहा है. साल 2014 चुनावों से पहले ये पता चल गया था कि वो नई सरकार में वित्त मंत्री होंगे. हालांकि वो अमृतसर से लोकसभा चुनाव हार गए थे. लेकिन ये बात भी उनकी नियुक्ति के आड़े नहीं आ सकी.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने एक वीडियो पोस्ट करके कहा, ”सिन्हा सही कह रहे हैं कि अर्थव्यवस्था मुशिकल में है. मोदी की अगुवाई में वित्त मंत्री अरूण जेटली ने भारतीय अर्थव्यवस्था को डुबो दिया है. किसी को तो शहंशाह को बताना था कि क्या हो रहा है और यशवंत सिन्हा ने ठीक यही किया है.”

सोशल मीडिया पर दूसरे लोग भी यशवंत सिन्हा के पक्ष-विपक्ष में दलीलें दे रहे हैं.

अभिषेक सिंह ने लिखा है, ”यशवंत सिन्हा ने लिखा है, ‘प्रधानमंत्री ने गरीबी को करीब से देखा है. उनके वित्त मंत्री ने सुनिश्चित कर रहे हैं कि सारे भारतीय इसे करीब से देख सकें.”