विकास झूठ बोल-बोल कर पागल हो गया है, ईमानदार आदमी को गालियां पड़ती हैं. राहुल का पूरा भाषण

विकास झूठ बोल-बोल कर पागल हो गया है, ईमानदार आदमी को गालियां पड़ती हैं. राहुल का पूरा भाषण




नई दिल्ली : गुजरात में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सिंहासन तक पहुंचाने की कोशिशों में जुटे राहुल गांधी ने मंगलवार शाम व्यापारियों को संबोधित किया. यहां उन्होंने कहा कि भारत में ईमानदार नेता होना सबसे मुश्किल काम है. राहुल ने कहा, ‘ईमानदार नेता को सबसे ज्यादा सहन करना पड़ता है. सच बोलो तो बहुत गालियां पड़ती हैं. मैंने यह सहा है. यह एक बंद तालाब जैसा है और कोई पार्टी नहीं चाहती कि यह तालाब खुली नदी का रूप ले.’

राहुल ने राजकोट में व्यवसायी समुदाय को संबोधित करते हुए कहा, सरकार ने माल एवं सेवा कर (जीएसटी) को लागू करने के लिए कोई तैयारी नहीं की थी. वहीं नोटबंदी के फैसले का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया, तो उन्होंने तुरंत पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को फोन किया था.
राहुल ने बताया, ‘यह खबर सुन कर मनमोहन सिंह 20 सेकेंड तक चुप हो गए और फिर बोले कि राहुल आपने अभी जो मुझे बताया मैं उसके सदमे से उबरने की कोशिश कर रहा हूं.’ उन्होंने कहा कि डॉ. मनमोहन सिंह ने नोटबंदी को आपराधिक कार्य बताते हुए कहा कि वे लोग ऐसा कैसे कर सकते हैं. राहुल ने कहा- बहुत सारे लोग कैश में काम करते हैं, लेकिन वे चोर नहीं हैं. ये बात शायद इन्हें समझ में नहीं आई.

गुजरात चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस उपाध्यक्ष यहां सौराष्ट्र इलाके में रोड शो कर रहे हैं. पाटीदार बहुल इस इलाके में राहुल ने उन्हें लुभाने की कवायद में सरदार वल्लभ भाई पटेल की विरासत का जिक्र किया. राहुल ने यहां बीजेपी पर निशाना साधते हुए राज्य सरकार पर आरोप लगाया कि उसने पटेल आरक्षण आंदोलन के दौरान समुदाय के लोगों पर बहुत जुल्म ढाया.

राहुल ने कहा, ‘आपने (पटेल समुदाय ने) देश को सरदार पटेल दिया, लेकिन बीजेपी सरकार ने आप पर जुल्म किए. पटेलों पर गोलियां चलाई गई. यह कांग्रेस का तरीका नहीं है. हम सभी समुदायों को साथ रखकर आगे बढ़ने में यकीन करते हैं.’

राजकोट आने के दौरान ढ्रोल कस्बा पहुंचने पर राहुल ने पाटीदार समुदाय की पहचान ‘पाटीदार टोपी’ पहनी, जिस पर ‘जय सरदार-जय पाटीदार’ का नारा लिखा हुआ था. पटेल समुदाय के प्रभावशाली युवा नेता हार्दिक पटेल के संगठन ‘पाटीदार अनामत आंदोलन समिति’ (पास) के सदस्यों ने राहुल को ‘पाटीदार टोपी’ भेंट की थी.
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गुजरात दौरे का आज दूसरा दिन है. राहुल गांधी ने जामनगर में अपने भाषण की शुरुआत केम छो से की. राहुल ने लोगों से पूछा कि विकास को क्या हो गया? तो लोगों ने कहा कि गाडो थई छो. गौरतलब है कि विकास गाडो थई छो का नारा बीते दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जो कि बीजेपी के लिए मुसीबत बन गया था.

राहुल गांधी ने यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीजेपी के भाषण अच्छे होते हैं, लेकिन काम नहीं अच्छा होता है. राहुल ने यहां कहा- बीजेपी मार्केटिंग में अच्छी है. हमनें कई अच्छे काम किए, लेकिन अपनी मार्केटिंग अच्छी तरह नहीं कर पाए. हम वहीं मार खा गए. मार्केटिंग करना हमारे डीएनए में नहीं. लेकिन हाल ही में सुषमा स्वराज जी ने कांग्रेस के कामों की मार्केटिंग की.

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि गुजरात की सरकार, गुजरात की जनता चलाएगी. वो दिल्ली के रिमोट कंट्रोल से नहीं चलेगी. राहुल ने कहा कि चुनाव आ रहे हैं, हमें कांग्रेस की सरकार बनानी है. गुजरात की सरकार यहां से ही चलनी चाहिए, दिल्ली से नहीं. कांग्रेस उपाध्यक्ष बोले कि पूरे देश को रास्ता दिखाना है, ये काम गुजरात की करेगा.

राहुल ने कहा कि सरदार पटेल की मूर्ति बन रही है लेकिन वो भी चीन में बन रही है. उस मूर्ति के पीछे मेड इन चाइना लिखा हुआ है, जो शर्म की बात है. राहुल बोले कि झूठ बोल-बोल कर विकास पागल हो गया है.