केजरीवाल का नया धमाका, दिल्ली में डेढ़लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम शुरू

नई दिल्ली: केजरीवाल सरकार अब बिना शोर शराबे के वादे पूरे करने की तरफ बढ़ रही है. सरकार ने अब नया धमाका किया है. सरकार अब उस वादे पर काम कर रही है जिसे अब तक विपक्षी पार्टियां सिर्फ चुनावी वादा कहकर खारिज करती रहती थीं.

 

सरकार के सूत्रों के मुताबिक पीडब्ल्यूडी मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को राजधानी में बड़े स्तर पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की योजना से संबंधित एक नोट भेजा है. इस में मुताबिक दिल्ली में पहले चरण के तहत डेढ़ लाख सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. पहले चरण में सीसीटीवी कैमरे लगाने की योजना के तहत दिल्ली की हर विधानसभा में 2000 कैमरे लगाए जाएंगे, जिसके लिए PWD मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ने सभी विधायकों को चिट्ठी लिखकर 15 अगस्त के पहले सीसीटीवी लगाने की जगहों के बारे में संबंधित रिहाइशी कॉलोनी और बाजारों का ब्यौरा मांगा है.

 

सत्येंद्र जैन द्वारा मुख्यमंत्री को भेजे गए नोट के मुताबिक डेढ़ लाख सीसीटीवी कैमरे न सिर्फ रिहायशी कॉलोनियों में बल्कि बाजार में भी लगाए जाएंगे. CCTV कैमरे की निगरानी के लिए हर इलाके में सेंट्रल मॉनिटरिंग केंद्र बनाए जाएंगे, जिसका रखरखाव करने की जिम्मेदारी आरडब्ल्यूए और बाजार के एसोसिएशन पर होगा.

 

इन कैमरों को लगाने का काम सरकार का PWD विभाग करेगा. दो हजार से ज्यादा कैमरे लगाने की स्थिति में विधायक को MLA फंड का इस्तेमाल करना होगा. दिल्ली सरकार के मुताबिक विधायकों द्वारा रिपोर्ट आने के बाद अक्टूबर के दूसरे सप्ताह तक सरकार डेढ़ लाख कैमरे लगाने के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करेगी और अगले साल जनवरी-फरवरी के महीने तक यह तमाम कैमरे राजधानी के कोने-कोने में लगा दिए जाएंगे.

 

सरकार के मुताबिक इन कैमरों को लगाने से राजधानी में अपराध पर नकेल लगाने में मदद मिलेगी और अपराधियों पर शिकंजा कसा जा सकेगा. सरकार के मुताबिक पहले चरण के बाद दूसरे चरण में लगभग चार लाख कैमरे राजधानी में लगाए जाएंगे. आम आदमी पार्टी ने विधानसभा चुनाव के दौरान दिल्ली में 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने का वादा किया था.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें