शरद यादव नीतिश के साथ नहीं. फोन पर दिलाया भरोसा

शरद यादव नीतिश के साथ नहीं. फोन पर दिलाया भरोसा




नई दिल्ली :  नॉकिंग न्यूज़ आपको लगातार जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) की अंदरूनी गतिविधियों के बारे में खबरें दे रहा है . कल ही हमने आपको बताया था कि शरद यादव नितीश और बीजेपी के खेमे में नहीं गए हैं. आज दोबारा इसकी पुष्टि हो गई.

ऐसे में राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू यादव ने शरद के बारे आज फिर साफ किया कि शरद यादव लालू के साथ हैं. एनडीटीवी से बात करते हुए लालू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार द्वारा विश्वास मत ( एनडीए 131-108 से जीत गई) हासिल करने के बाद शरद ने उनको फोन किया और कहा कि वह लालू के साथ हैं.

पिछले कुछ वक्त से नीतीश कुमार विपक्ष की 18 पार्टियों से बातचीत नहीं कर रहे थे. ऐसे में जेडीयू की तरफ से शरद यह काम देख रहे थे. उन पार्टियों के साथ मीटिंग्स में शरद यादव लगातार कहते रहे कि जेडीयू की भी पहली लड़ाई बीजेपी ही है.

बिहार का महागठबंधन (नीतीश और लालू की पार्टी के बीच) टूटने के बाद शरद यादव की चुप्पी के लोग अपने-अपने मायने लगा रहे हैं. शरद यादव पिछले कुछ महीनों से संसद में भी चुपचाप दिखे. मीटिंग और किसी कार्यक्रम में नेताओं और लोगों से मिलते वक्त वह ज्यादा बातचीत नहीं कर रहे. जिस जिन नीतीश कुमार एनडीए में वापस आए उस दिन शरद यादव एक कार्यक्रम में थे. लेकिन वह वहां ज्यादा देर रुके नहीं.