दिल्ली में अब देना होगा कूड़ा उठाने का भी पैसा, नहीं दिया तो मोटा जुर्माना, ये हैं दरें

दिल्ली में अब देना होगा कूड़ा उठाने का भी पैसा, नहीं दिया तो मोटा जुर्माना, ये हैं दरें




दिल्ली में नगर निगम चुनाव जीतने के बाद बीजेपी ने पहला तोहफा दिया है . अब नॉर्थ दिल्ली नगर निगम लोगों से कचरा उठाने के बदले में रुपये वसूलेगा. इतना ही नहीं जो कचरा उठाने के पैसे नहीं देगा उसे जुर्माना भी देना होगा. इसका मतलब ये हा कि बात बात में टैक्स वसूलने वाली एम सी डी अब कचरा उठाने की सुविधा से भी हाथ खींच रही है. सरकार कूड़ा उठाने के पैसे हर गरीब अमीर से लेगी और झुग्गी वालों को भी बख्शा नहीं जाएगा.

अपने नये आदेश में एमसीडी ने कहा है कि वो अब कचरा पैसे लेकर उठाएगी , सूखा कचरा अलग ले जाया जाएगा और गीला कचरा अलग. इस काम के लिए नॉर्थ एमसीडी इलाके के ग्रेड के हिसाब से पैसा वसूलेगी. ए श्रेणी के इलाकों में 150 रुपये तक की वसूली की जाएगी जबकि जी और एच श्रेणी के इलाकों से 50 रुपये महीने की वसूली होगी.

कमर्शियल इलाकों में ये रकम 500 रुपये तक होगी, गेस्टहाऊस से हर महीने 2500 रुपये, रेस्टॉरेन्ट से 4000 रुपये और होटलों से 8000 रुपये तक वसूल की जाएगी. ये भुगतान जमा नहीं करने पर एमसीडी ने मोटी पैनल्टी का भी प्रावधान किया है.

भारत के आज़ाद होने से अबतक नगर निगम ने कचरा उठाने के लिए कभी शुल्क नहीं वसूला है. शहर को साफ रखना और लोगों के घर से कचरा इकट्ठा करना नगर निगम का मुख्य काम माना जाता रहा है. अब जब ये काम भी एमसीडी नहीं करेगी तो फिर करेगी क्या.