पुलिस के प्यार के पति ने खुद का भेजा उड़ा लिया , वाट्सएप बना कत्ल का ज़िम्मेदार

पुलिस के प्यार के पति ने खुद का भेजा उड़ा लिया , वाट्सएप बना कत्ल का ज़िम्मेदार

नई दिल्ली: पुलिस वाले को उससे प्यार था लेकिन वो कुंवारी नहीं थी. वो जिस शख्स की बीवी थी वो प्यार के बारे में नहीं जानता था. लेकिन वाट्सएप पर दोनों के बीच कुची कुची चल रहा था. सिपाही के मोहब्बत के पति को इस कुची कुची की खबर लगी. उसके बाद मामला मौत तक पहुंचा. सिपाहीकी मोहब्बत के पति ने खुद के माथे में गोलियां दाग लीं.

 

सूत्रों का कहना है कि मृतक पुलिसवाले आशिक की ब्लैकमेलिंग से परेशान था. उसने अपने बच्चों के सामने गोली मारकर अपनी जिंदगी खत्म कर ली.

 

जानकारी के मुताबिक, गीता कॉलोनी के आराम पार्क इलाके में हसीन नामक शख्स अपने परिवार के साथ रहता था. चार साल पहले उसकी शादी हुई थी. उसके दो बच्चे हैं. आरोप है कि हसीन की बीवी और गीता कॉलोनी थाने मैं तैनात एक कॉन्स्टेबल प्रदीप के बीच अफेयर चल रहा था. वह अक्सर उनके घर में आया-जाया करता था.

 

यह बात हसीन को नागवार गुजर रही थी. उसने कई बार अपनी बीवी को धमकाया और प्रदीप से दूर रहने के लिए कहा था. उसने व्हाट्सएप चैट दिखाई थी, जिसमें उसकी बीवी और प्रदीप के बीच चैटिंग हुई थी. परिवार वालों का कहना है कि मंगलवार को हसीन अपनी पत्नी को लेकर गीता कॉलोनी थाने भी पहुंचा और केस दर्ज कराना चाहा.

उसने अपनी पत्नी से कहा कि यदि उसके और प्रदीप के बीच कोई अफेयर नहीं चल रहा, तो वह उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराए. लेकिन जैसे ही मियां-बीवी थाने पहुंचे, प्रदीप ने उन्हें थाने से भगा दिया. इससे हसीन बुरी तरह से टूट गया. उसे लगा कि अब उसकी कोई मदद नहीं करेगा. बुधवार तड़के उसने घर में गोली मारकर खुदकुशी कर ली.

 

परिजनों उसे तुरंत अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस कार्रवाई कर रही है और पर सवाल महकमें पर लगा है. अब देखना यह होगा कि पुलिस मामले में क्या प्रदीप के खिलाफ कोई कार्रवाई करती है या फिर लीपापोती करके इस मामले को दबा दिया जाता है. परिजनों और बच्चों का रो-रो कर बुरा हाल है.