“हद से ज्यादा शराब पीती हैं हेमा मालिनी, सुसाइड क्यों नहीं किया?”

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के एक विधायक ने बेहद सख्त अंदाज़ में किसानों का बचाव किया. उन्होंने उन सभी लोगों को मुंहतोड़ जवाब दिया जो कहते हैं कि किसानों की आत्महत्या के पीछे उनका नशा है. शुक्रवार (14 अप्रैल) को आचलपुर से विधायक बच्चू कादू ने किसानों द्वारा जान देने वाले मामले पर बात की जा रही थी.

बच्चू कदू ने कहा, ‘लोग कहते हैं कि शराब पीने की वजह से किसान सुसाइड कर रहे हैं, ये बिल्कुल गलत है.’ इसके बाद विधायक ने हेमा मालिनी का जिक्र करने वाली बात कहते हुए कहा, ’75 प्रतिशत विधायक पीते हैं, पत्रकार पीते हैं, हेमा मालिनी बहुत ज्यादा पीती हैं, क्या उन्होंने सुसाइड किया?’ हेमा मालिनी मथुरा से सांसद हैं. 2016 में उनकी हाजरी केवल 37 प्रतिशत थी. उन्होंने केवल 10 चर्चाओं में भाग लिया और 113 सवाल सदन में पूछे.

हेमा मालिनी का नाम इससे पहले भी विवादों में रह चुका है. 2016 में मथुरा के जवाहर बाग में जमीन से कब्जा हटवाने गई पुलिस और लोगों के बीच हुई हिंसा के बाद एसपी सहित 24 लोगों की जान चली गई थी. लेकिन उस मामले पर प्रतिक्रिया देने की जगह हेमा मालिनी ट्विटर पर अपनी आने वाली फिल्म. की शूटिंग से जुड़ीं फोटोज शेयर कर रही थीं.

बता दें कि नीति आयोग ने 2016 के अक्टूबर में एक रिपोर्ट जारी की थी. उसमें महाराष्ट्र को किसानों के लिए सबसे बेहतर राज्य बताया गया था. देश में कृषि क्षेत्र में सुधारों के आधार पर तैयार किए गए नीति आयोग के सूचकांक में महाराष्ट्र सर्वाधिक कृषक अनुकूल राज्य था. उसके बाद क्रमश: गुजरात और राजस्थान का स्थान था. आयोग ने ‘कृषि विपणन और कृषक अनुकूल सुधार सूचकांक’ तैयार किया था. यह पहली बार किया गया था.

रिपोर्ट में 29 में से 20 राज्यों का प्रदर्शन खराब रहा था. इनमें पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, पंजाब, असम, झारखंड, तमिलनाडु तथा जम्मू-कश्मीर भी शामिल थे.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें