चुनाव आयोग सेर तो केजरीवाल सवा सेर, निकाला हैकिंग चैलेंज का दमदार तोड़

नई दिल्‍ली: चुनाव आयोग सेर तो केजरीवाल सवा सेर . चुनाव आयोग ने हैकाथॉन तो नहीं कराया लेकिन एक चाल चली. उसने कहा कि हम आपको एक ईवीएम देंगे और बिना उसे खोले या सॉफ्टवेयर को छुए हैक करके दिखाओ. केजरीवाल की तरफ से सौरभ भारद्वाज ने इस पर देहला जड़ा.

सौरभ ने कहा कि हम भी हैकाथॉन करेंगे शर्त वही होगी जो चुनाव आयोग ने रखी है. हमारी मशीन को जो चाहे हैं करके दिखा सकता है . सौरभ ने कहा कि हमारी मशीन गड़बड़ है लेकिन इसकी गड़बड़ी कोई पकड़ नहीं सकता क्योंकि शर्तें चुनाव आयोग वाली है. चुनाव आयोग की शर्तों से गड़बड़ी पकड़ी ही नहीं जा सकती.

 

उन्होंने कहा कि 3 जून को चुनाव आयोग के ईवीएम चैलेंज के ख़िलाफ़ आम आदमी पार्टी (आप) भी अपना हैकेथॉन कराने जा रही है. ‘आप’ का कहना है कि चुनाव आयोग की ही शर्तों के अनुसार वो अपनी मशीन को टेंपर करने के लिए देश के सामने रखेगी जिसमें सभी राजनीतिक पार्टियों, विशेषज्ञों और चुनाव आयोग को भी न्योता दिया जाएगा. ‘आप’ की तरफ़ से गुरुवार को प्रवक्ता सौरभ भरद्वाज मीडिया से रूबरू हुए.

 

उन्होंने बताया कि “आम आदमी पार्टी भी चुनाव आयोग के साथ ईवीएम चैलेंज पेश करने की तैयारी में है. जिस मशीन से उसने विधानसभा के विशेष सत्र में साबित किया था कि वोट बदले जा सकते हैं उसी से तीन जून को हैकेथॉन की तैयारी कर रही है.

 

शर्तें वही होंगी जो चुनाव आयोग की हैं.” सौरभ भरद्वाज ने ये भी कहा कि, “हम सबको बुलाएंगे, चुनाव आयोग को भी आमंत्रित करेंगे और देश भर के तकनीक के जानकारों को भी बुलाएंगे, हम इनकी हक़ीकत सबके सामने रखना चाहते हैं.

“आम आदमी पार्टी इस चैलेंज के लिए चुनाव आयोग की ही तरह चार घंटों का वक्त देगी और साथ ही बटन दबाकर या फिर किसी दूसरी डिवाइस से हैक करने दिया जाएगा.

 

 

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें