देश के 35 हज़ार लोगों के खाते में कभी भी आ सकते हैं करोड़ों, 490 करोड़ होंगे ट्रांसफर

मुंबई: मोदी के बताए 15 लाख रुपये अकाउंट में आएं या नहीं आएं लेकिन देश के 35 हज़ार लोगों के अकाउंट में करोड़ों कभी भी आ सकते हैं. जिन निवेशकों की रकम पिछले कुछ दशकों में डूबी है, पुलिस ने फैसला किया है कि वह सभी को अलग-अलग चरणों में रकम बांटेगी.

पहले चरण में 35 हजार निवेशकों के बैंक अकाउंट्स में रकम ट्रांसफर की जाएगी.

पुलिस ने जो हिसाब लगाया है, उसमें 11 कंपनियों द्वारा ठगे गए करीब 490 करोड़ रुपये निवेशकों को दिए जाएंगे.

फिलहाल पुलिस ने 9 कंपनियों की लिस्ट जारी की है. इन कंपनियों में से कुछ की कुल 40 करोड़ रुपये रकम उसके पास है. इन कंपनियों की 410 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी भी पुलिस बेचने वाली है.

जिन कंपनियों की लिस्ट पुलिस ने बुधवार को जारी की है, उनमें मेसर्स मेडिकेयर, मेसर्स कॉसमॉस पब्लिसिटी, मेसर्स कोकणपार्क, मेसर्स सी यू मार्केटिंग, मेसर्स सिमटॉक फाइनेंस, मेसर्स अडवेंचर ग्रुप, मेसर्स वीजेएस ग्रुप, मेसर्स पार्ले फाइनैंस, मेसर्स शिवानंद फाइनैंस के नाम प्रमुख हैं.

 

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें