ब्रिटेन में आतंकवादी हमला, पॉप कंसर्ट में हुए धमाके में 19 की मौत 50 घायल

ब्रिटेन में आतंकवादी हमला, पॉप कंसर्ट में हुए धमाके में 19 की मौत 50 घायल




लंदन: मैनचेस्टर शहर में एक पॉप कंसर्ट ख़त्म होते ही ज़बरदस्त धमाका हुआ है जिसमें कम-से-कम 19 लोगों की मौत हो गई है. लगभग 50 लोग घायल हैं.

BBC की रिपोर्ट के मुताबिक धमाका मैनचेस्टर अरीना में हुआ जहाँ एक अमरीकी गायिका अरियाना ग्रैंडे का पॉप कंसर्ट हो रहा था. धमाका कार्यक्रम ख़त्म होने के कुछ ही देर बाद हुआ. तब वहाँ रात के लगभग साढ़े दस बज रहे थे.

विस्फोट का कारण अभी पता नहीं है मगर बीबीसी को जानकारी मिली है कि ब्रिटेन पुलिस का आतंकवाद विरोधी दस्ता इसे एक चरमपंथी हमला मान रहा है.

इस बीच अधिकारियों ने बीबीसी को ये भी ख़बर दी कि धमाके की जगह के पास ही एक और संदिग्ध विस्फोटक बरामद किया गया जिसे सुरक्षित तरीक़े से विस्फोट कर निष्क्रिय किया गया. मगर बाद में पुलिस ने स्पष्ट किया कि वो वो एक विस्फोटक नहीं बेकार पड़े हुए कपड़े थे.

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने कहा है कि अभी सारे ब्यौरों का विश्लेषण किया किया जा रहा है जिसे पुलिस एक ‘घृणास्पद आतंकवादी हमला’ मानकर चल रही है.

धमाके के बाद इलाक़ा सील

मैनचेस्टर के मुख्य इलाक़े में बम निरोधी विशेष दस्ता और हथियारबंद पुलिस गश्त लगा रहे हैं, पूरे इलाक़े को सील कर दिया गया है.

नेटवर्क रेल का कहना है कि कंसर्ट स्थल के नज़दीक स्थित मैनचेस्टर विक्टोरिया स्टेशन से आवागमन रोक दिया गया है.

ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस ने लोगों से इलाक़े से दूर रहने की अपील की है. पुलिस का कहना है कि हताहतों के बारे में जल्द से जल्द जानकारी जारी कर दी जाएगी.

धमाके के बाद अरीना को खाली करा लिया गया है. गायिका एरियाना ग्रैंडे की प्रवक्ता का कहना है कि वो सुरक्षित हैं.

प्रत्यक्षदर्शियों ने क्या देखा

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि उन्होंने दो तेज़ धमाकों की आवाज़ सुनी है. बताया जा रहा है कि धमाके एरेना की टिकट खिड़की के पास हुए हैं.

कई प्रत्यक्षदर्शियों ने धमाके के बाद लोगों की हड़बड़ाहट और हंगामे का वर्णन किया है.

22 वर्षीय रॉबर्ट टेम्पकिन ने कहा, “सभी चिल्ला रहे थे और भाग रहे थे. लोगों के कोट और फ़ोन फर्श पर पड़े थे. लोग सबकुछ छोड़कर भागने लगे थे.”

“कुछ लोग चिल्ला रहे थे कि उन्होंने ख़ून देखा है जबकि अन्य कह रहे थे कि ये सिर्फ़ गुब्बारों के फटने की आवाज़ थी या कोई स्पीकर फट गया था.”

उन्होंने कहा, “मौके पर बहुत सी एंबुलेंस थी, मैंने देखा कि किसी का इलाज किया जा रहा था लेकिन मैं ये नहीं बता सकता कि उसे क्या हुआ था.”

जोश एलियॉट ने बीबीसी के रेडियो फ़ाइव लाइव से बात करते हुए कहा कि वो मौतों की रिपोर्ट सुनने के बाद सदमें में हैं.

उन्होंने बताया, “एक ज़ोरदार धमाका हुआ, सभी ठहर गए और चिल्लाने लगे…हम तो नीचे फ़र्श पर लेट गए. हालात बहुत तनावपूर्ण थे.”

वो बताते हैं, “जब हमें लगा कि हालात सुरक्षित हैं तो हम उठ गए और जितनी जल्दी हो सका बाहर निकल आए.”

“लोग रो रहे थे और उनकी आंखों में आंसू थे…हर जगह पुलिस की गाड़ियां दिखाई दे रहीं थीं. हम बस जल्द से जल्द बाहर निकलना चाहते थे क्योंकि हमें पता ही नहीं था कि वहां हो क्या रहा है.”