आज चुनाव आयोग में AAP की ईवीएम का डेमो, सौरभ भारद्वाज टीम के साथ जाएंगे

नई दिल्ली : अब आम आदमी पार्टी चुनाव आयोग के सामने ईवीएम हैक करके दिखाएगी. इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) टेंपरिंग को लेकर उठ रहे सवालों के बीच आज दिल्ली में सर्वदलीय बैठक हो रही है. यह बैठक चुनाव आयोग ने बुलाई है. सभी राजनीतिक पार्टियां केंद्रीय चुनाव आयोग के सामने अपनी राय रखेंगी. माना जा रहा है कि आम आदमी पार्टी की तरफ से सौरभ भारद्वाज इस बैठक में अपनी ईवीएम लेकर जाएंगे. इस सर्वदलीय बैठक में आम आदमी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व विधायक सौरभ भारद्वाज ही करेंगे. सौरभ भारद्वाज के साथ पार्टी के टेक्निकल टीम के सदस्य भी इस बैठक में हिस्सा लेंगे.

कांग्रेस सहित कई विपक्षी दलों ने अब इस मामले में अपना रवैया और सख्त कर लिया है. पहले जहां ये वीवीपैट की व्यवस्था होने तक ही मतपत्रों से चुनाव कराने की मांग कर रही थीं, अब ये पूरी तरह मतपत्रों से ही चुनाव की व्यवस्था पर जोर देने वाली हैं.वहीं, सौरभ भारद्वाज ने मंगलवार को दिल्ली विधानसभा में ईवीएम जैसी मशीन का डेमो दिखाकर टेंपर करने का दावा किया और चुनाव आयोग को चुनौती दी कि वे औपचारिक रूप से ईवीएम टैम्पर करने के कार्यक्रम का आयोजन कर जिसमे आम आदमी पार्टी आयोग की ईवीएम को हैक करके दिखाएगी.

आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने बृहस्पतिवार को पत्रकार वार्ता में जानकारी दी कि आखिर वे चुनाव आयोग की सर्वदलीय बैठक में मांग करेगी कि चुनाव आयोग अपनी देखरेख में एक संयुक्त समिति बनाए जिसमे सभी पार्टी के नुमाइंदे हों, चुनाव आयोग के विशेषज्ञ हों और हमारे तकनीकि विशेषज्ञ की टीम उस समिति को यह दिखा देगी और साबित कर देगी कि कैसे पिछले चुनाव में धांधली हुई थी.

सूत्रों के अनुसार कांग्रेस पार्टी ने कुछ अन्य विपक्षी पार्टियो के साथ मिल कर तय किया है कि वह फिर से चुनाव पूरी तरह मतपत्रों पर ही आधारित करने की मांग करेगी. अब तक ये विपक्षी दल वोटर वेरिफायेबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) आधारित व्यवस्था की ही मांग कर रहे थे और यह व्यवस्था लागू होने तक मतपत्र से चुनाव कराने को कह रहे थे. मगर दो दिन पहले दिल्ली विधानसभा में आप के एक विधायक की ओर से ईवीएम मशीन में छेड़छाड़ के तरीके का डेमो दिए जाने के बाद इस व्यवस्था पर इन्होंने भी रुख सख्त कर लिया है.

बताते हैं कि कांग्रेस के साथ ही जद (यू), राजद, सपा, बसपा और वाम दलों के साथ भी इस संबंध में बातचीत हुई है. ये सभी इस मांग पर एक साथ आ सकते हैं.

उधर, अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) ने ईवीएम से छेड़छाड़ की जांच के लिए सर्वदलीय समिति गठित करने की मांग की है.

पार्टी की ओर से विधायक सौरभ भारद्वाज ही आयोग की बुलाई बैठक में हिस्सा लेंगे. भारद्वाज ने ही विधानसभा में डेमो दिया था. हालांकि वे अपने साथ अपनी बनाई वह ईवीएम लेकर नहीं जाएंगे, जिसे उन्होंने विधानसभा में पेश किया था.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें