फेसबुक पर सहेलियां बनाने के चक्कर में फंस गया नौजवान, 25 लाख की चपत

नई दिल्ली: फेसबुक पर लड़कियों के चक्कर में आने वालों के लिए ये खबर चेतावनी है. दिल्ली में किडनैपिंग की एक हैरान कर देने वाली वारदात सामने आई है. किडनैपर ने सोची समझी साजिश के तहत अपने रिश्तेदार के बेटे को किडनैप कर पैसा कमाने के चक्कर में एक नया तरीके अपनाया. उसे किडनैप भी कर लिया. फिरौती ली और फरार हो गया. लेकिन पुलिस ने साजिश का पर्दाफाश करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक, अक्षय नामक एक शख्स को पैसो की जरूरत थी. इसके लिए उसने अपने बुआ के बेटे को किडनैप करने का फैसला किया. अक्षय ने फेसबुक पर श्रेया त्यागी नाम से फेसबुक पर एक फेक एकाउंट बनाया. अपनी बुआ के बेटे को 30 मार्च को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी. पीड़ित ने फ्रेंड रिक्वेस्ट देखी तो एक्सेप्ट कर लिया.

करीब 5 दिन फेसबुक पर पीड़ित और किडनैपर के बीच चैटिंग होने लगी. पीड़ित को लगा कि वो श्रेया त्यागी नाम की एक लड़की से बात कर रहा है. किडनैपर ने पीड़ित से मिलने के लिए कहा और 5 अप्रैल को जब लड़का फेसबुक पर बनी दोस्त से मिलने गया तो उसे किडनैप कर लिया गया. इसके बाद पीड़ित के परिवार से फिरौती मांगी गई.

पीड़ित के पिता संजय सारस्वत जो गारमेंट्स का बिजनेस करते है, उन्हें फिरौती के लिए कॉल किया गया. 25 लाख के साथ बागपत बॉर्डर पर बुलाया गया. संजय ने पुलिस को जानकारी दी और दो बैग में पैसे रखकर बागपत पहुंचे. वहां किडनैपर्स ने पैसा लेने के बाद पुलिस को चकमा देते हुए मेरठ रोड पर पीड़ित को छोड़ दिया और फरार हो गए.

पुलिस की जांच शुरू हुई तो पता लगा कि जिस लड़की की आईडी पर पीड़ित की चैट हो रही थी वो लड़की नहीं बल्कि पीड़ित के मामा का बड़ा बेटा अक्षय है. पुलिस अक्षय और उसके साथियों की तलाश में थी. तभी अक्षय के साथी राजा ने सरेंडर कर दिया. इसके बाद मामले का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें