सेफ गेम खेल रहे हैं कपिल मिश्रा, मानहानि के मुकदमे से बचने के लिए निकाला ये जुगाड़

नई दिल्ली: कपिल मिश्रा कुछ कर पाएं या न कर पाएं. केजरीवाल को बदनाम ज़रूर कर देंगे. आज जब वो सीबीआई दफ्तर पहुंचे तो उनके तेवर दूसरे थे. हाथ में एक पीला लिफाफा भी था. कहा गया कि लिफाफे में केजरवाल के खिलाफ सबूत हैं और सबूत ईमेल से मिले हैं. यानी कि कपिल मिश्रा ईमेल के नाम पर जो चाहेंगे आरोप लगा देंगे और चूंकि आरोप ईमेल में आएगा तो जिम्मेदारी भी नहीं होगी. मानहानि का मुकदमा होगा तो कह देंगे कि ईमेल पर आए ये मेरे आरोप नहीं थे.

आपको बताते हैं कि ये तीनों शिकायतें हैं क्या …

पहली – सत्येंद्र जैन का अरविंद केजरीवाल को 2 करोड़ देने के आरोप पर.

दूसरी – करीबी रिश्तेदार के लिए सत्येंद्र जैन और अरविंद केजरीवाल के बीच हुई 50 करोड़ की लैंड डील का आरोप.

तीसरी – संजय सिंह, सत्येंद्र जैन, राघव चड्ढा, आशीष खेतान, दुर्गेश पाठक, पर देश के खिलाफ विदेशी यात्राएं करने का आरोप है.

कपिल मिश्रा ने सीबीआई दफ़्तर जाने से पहले आरोप लगाया कि ताजा जानकारी जो मिली वो बहुत खतरनाक है. रशिया में संजय सिंह ने गैर कानूनी डील की हैं. राघव चड्ढा, आशीष खेतान, दुर्गेश पाठक, सत्येंद्र जैन के विदेश यात्राओं की जानकारी मिली है. इन्होंने वहां देश के खिलाफ काम किया है. ये नेता जहां जहां देश विदेश घूमने गए हैं वो इन्हें बताना होगा.

कपिल ने सवाल उठाए और कहा कि  विदेश जाने की जानकारी इन नेताओं ने पब्लिक क्यों नही की. सीबीआई को शिकायत दूंगा वो जानकारी निकलेंगे

अगर विदेश यात्रा की डिटेल पब्लिक नही की तो यही अपने घर पे हड़ताल पर बैठूंगा..

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें