एक नज़र में जानिए यूपी में योगी क्रांति, एक साधु ले रहा है जनवादी फैसले, पढ़िए 20 कदम

एक नज़र में जानिए यूपी में योगी क्रांति, एक साधु ले रहा है जनवादी फैसले, पढ़िए 20 कदम




योगी आदित्यनाथ बीजेपी से ज्यादा समाजवादी रास्ते पर चलते दिख रहे हैं. समाजवादी पार्टी भले ही समाजवादी न रही हो लेकिन योगी के कदम समजावाद वाले हैं. आपको दिखाते हैं बड़े 10 फैसले जिनसे संघ से ज्यादा वामपंथियों को खुश होना चाहिए.
1. बिना रेन वाटर हार्वेस्टिंग के घर का नक्शा नहीं पास होगा
योगी सरकार ने जल संरक्षण की दिशा में बड़ा फैसला किया है. अब बिना रेन वाटर हार्वेस्टिंग के यूपी में घर नहीं बना पाएंगे लोग. यूपी सीएम योगी अदित्यनाथ ने साफ आदेश दिया है कि बिना रेन वाटर हार्वेस्टिंग के घर का कोई नक्शा पास न किया जाए. अब घर बनाने से पहले नक्शा तभी पास होगा जब उसमे रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्लांट लगा हो.
2. सरकारी डॉक्टरों पर सख्ती
योगी सरकार ने सरकारी डॉक्टरों को लेकर एक बड़ा फरमान जारी किया है. सरकारी डॉक्टर प्राइवेट प्रैक्टिस नहीं कर सकेंगे. यूपी में ऐसा कर रहे 200 से अधिक डॉक्टरों की लिस्ट बनाई गई है. योगी सरकार ने 20 दिन में सरकारी डॉक्टरों को प्राइवेट प्रैक्टिस छोड़ने को कहा है. इसके अलावा सरकारी अस्पतालों में लोगों के इलाज की सुविधाएं बढ़ाने पर भी योगी सरकार ने जोर दिया है.
3. एसिड बेचने वालों पर डीएम देंगे रिपोर्ट
योगी सरकार यूपी में एसिड बेचने पर भी कड़े कदम उठाने जा रही है. राज्य सरकार ने सभी डीएम को आदेश दिया है कि एसिड रखने और बेचने की कड़ाई से मॉनिटरिंग की जाए. उत्तर प्रदेश सरकार ने UP poison & sales rule के तहत 15 दिनों के भीतर सभी डीएम से रिपोर्ट तलब की है कि स्टॉक कितना है और कहां कहां बिना अनुमति के बेचा जा रहा है. सभी डीएम को निरीक्षण कर बेचने वालों की लिस्ट सौंपने को भी कहा गया है.
4. प्राइवेट स्कूलों की फीस पर चलेगी कैंची
उत्तर प्रदेश के विभिन्न प्राइवेट स्कूलों में लगातार बढ़ती फीस पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार, कानून में नए प्रावधान लाने की तैयारी में है. इसके अलावा स्कूलों में शिक्षकों की अनुपस्थिति पर भी लगाम लगाने की तैयारी है. इसके लिए योगी सरकार स्कूलों में बायोमेट्रिक अटेंडेंस सिस्टम भी लागने के बारे में सोच रही है.
5. न सोऊंगा, न सोने दूंगा से अधिकारियों में हड़कंप
प्रधानमंत्री पद संभालने के बाद नरेंद्र मोदी का यह नारा बहुत मशहूर हुआ था- न खाऊंगा, न खाने दूंगा. अब यूपी के सीएम का पद संभालने के बाद योगी आदित्यनाथ की इस हुंकार की काफी चर्चा है- न सोऊंगा, न सोने दूंगा. अधिकारियों को जनता के बीच जाकर काम करने, पैदल चलकर लोगों की समस्याएं जानने और 18 घंटे तक काम करने का फरमान यूपी के प्रशासन में हड़कंप का विषय बना हुआ है.
6. बुंदेलखंड और पूर्वांचल के लिए बड़ा प्लान
पूर्वांचल से आने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को दिल्ली में अंतरराज्यीय विकास परिषद की बैठक में राज्य के पिछड़े क्षेत्रों बुंदेलखंड और पूर्वांचल में विकास के लिए केंद्र सरकार से धन की मांग की. ये मोदी के यूपी से किए गए वादे की ओर बढ़ने का संकेत है. पीएम मोदी ने चुनाव प्रचार के दौरान कहा था कि आप बीजेपी को सत्ता में लाएं हम यूपी को देश के विकास का इंजन बनाएंगे.
7. 15 जून तक गड्ढा मुक्त होंगी सड़कें
सत्ता संभालते ही सीएम योगी ने अधिकारियों को सबसे पहले टारगेट दिया यूपी को 15 जून तक गड्ढा मुक्त करने का. इसके लिए CM योगी ने PWD विभाग को आदेश दिया कि सड़कों की मरम्मत के लिए दूसरे राज्यों के मॉडल से सीख ली जाए और हर हाल में ये टारगेट पूरा हो.
8. वाई-फाई से लैस होंगे यूपी के बस स्टैंड्स
डिजिटल यूपी की ओर कदम बढ़ाते हुए यूपी सरकार ने यूपी के सभी बस स्टैंड्स को वाई-फाई सुविधाओं से लैस करने का आदेश दिया. परिवहन विभाग के प्रेजेंटेशन के दौरान सीएम योगी ने आम लोगों के लिए कई नई सुविधाएं शुरू करने का निर्देश दिया. बसों की टाइमिंग पता लगाने के लिए जल्द ही ट्रैक माई बस ऐप भी शुरू किया जाएगा.
9. ठेको में गड़बड़ी करने वालों पर सख्ती
सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसके साथ चेतावनी भी दी कि अगर कोई अधिकारी या ठेकेदार गबन करेंगे, तो उनके ऊपर केस भी दर्ज होगा. गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ सभी विभागों की प्रेजेंटेशन ले रहे हैं. 11 अप्रैल को यूपी सरकार की अगली कैबिनेट बैठक होनी है.
10. 3 रुपये में नाश्ता, 5 रुपये में मिलेगा खाना
तमिलनाडु में अम्मा कैंटीन की तर्ज पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जल्द ही अन्नपूर्णा भोजनालय शुरू करने जा रही है. इस भोजनालय में मात्र तीन रुपये में नाश्ता और पांच रुपये में खाना उपलब्ध कराया जाएगा. 12 अप्रैल को खुद सीएम योगी आदित्यनाथ इसका प्रेजेंटेशन देखने वाले हैं.
11. गन्ना किसानों के जल्द अच्छे दिन आएंगे
उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों का बकाया भुगतान जल्द कराने का फैसला लिया गया है. पिछली सरकार ने चीनी मिलों को जो अवैध तरीके से बेचा है सरकार उसकी सीबीआई जांच करवा सकती है. गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा ने कहा कि सरकार के नेतृत्व में 80 प्रतिशत समूहों का भुगतान हो चुका है. यूपी में सभी पशुओं का मुफ्त इलाज होगा और जितने भी महंगी एंटीबायोटिक हैं, वो निशुल्क दी जाएंगी.
12. अखिलेश-माया राज की परियोजनाओं पर नजर
सीएम योगी की नजर अखिलेश-माया राज की परियोजनाओं पर भी है. सीएम योगी ने गोमती रिवरफ्रंट परियोजना का खुद जाकर जायजा लिया और रुके हुए काम पर अधिकारियों से रिपोर्ट तलब की. इस परियोजनाओं में गड़बड़ी के आरोपों के जांच के भी आदेश दिए गए हैं. इस कदम से सीएम योगी ने तमाम परियोजनाओं से जुड़े अधिकारियों को संदेश दिया कि कभी भी उनका काम जांच के घेरे में आ सकता है.
13. बूचड़खानों पर लागू होंगे सख्त नियम
योगी राज के शुरू होने के साथ ही यूपी में अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई शुरू हो गई. मीट कारोबारी हड़ताल पर भी गए. सीएम योगी से भी मिले. इस बीच, योगी सरकार ने साफ किया कि अवैध बूचड़खानों पर सख्त कार्रवाई जारी रहेगी.
14. एंटी रोमियो दस्ता
महिलाओं की सुरक्षा के नाम पर मनचलों के खिलाफ कार्रवाई के लिए योगी राज में हर जिले में एंटी रोमियो दस्ते बनाए गए हैं. मनचलों के खिलाफ कई जिलों में लगातार कार्रवाई हुई. सीएम योगी ने इस कार्रवाई की सराहना की और कहा कि महिला सुरक्षा के साथ कोई भी नरमी नहीं की जाएगी.
15. बिजली पर ये है योगी सरकार का प्लान
योगी सरकार राज्य में 24 घंटे बिजली देने के लिए पूरी जान लगा रही है. योगी ने अधिकारियों के साथ बैठक में फैसला लिया कि आने वाली 14 अप्रैल से सभी जिला मुख्यालयों में 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराई जाएगी. तो वहीं तहसील और गांव में भी 18 घंटे बिजली दी जाएगी. इसके मद्देनजर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल और यूपी के मंत्री श्रीकांत शर्मा में की बैठक भी होगी, जिसमें 2018 तक सभी जगह बिजली और तीर्थ स्थलों पर 24 घंटे बिजली की व्यवस्था की जाएगी. 100 दिनों में पांच लाख नए कनेक्शन के आदेश भी दिए गए हैं.
16. तबादले नहीं काम का मिशन
योगी सरकार के सत्ता संभाले 20 दिन से ऊपर हो गए हैं लेकिन पुराने सरकार में तैनात अधिकारियों के तबादले की लिस्ट अभी तक नहीं आई है. इसके उलट सीएम योगी ने तमाम अधिकारियों से रिपोर्ट और योजना का ब्लू प्रिंट हासिल किया. सीएम योगी आदित्यनाथ ने रोज 18 से 20 घंटे काम करके राज्य सरकार के आला अधिकारियों को कठिन परिश्रम का साफ संदेश दे दिया है. राज्य की नौकरशाही को संभवत: समझ आ चुका है कि उन्हें देर रात भी तलब किया जा सकता है. मुख्यमंत्री बनते ही योगी ने साफ शब्दों में अधिकारियों को संकेत दिया था कि जो हर रोज 18 से 20 घंटे काम करने के लिए तैयार नहीं हैं, वे जाने के लिए स्वतंत्र हैं.
17. किसानों की कर्ज माफी का फैसला
4 अप्रैल को अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में ही योगी सरकार ने किसानों का 1 लाख तक का फसल कर्ज माफ करने का फैसला किया. इस फैसले के तहत योगी सरकार ने किसानों का 36,359 करोड़ का कर्जा किया माफ. इसके अलावा सरकारी केंद्रो के जरिए किसानों से सीधे गेंहूं खरीद का भी सरकार ने फैसला लिया है.
18. आलू उत्पादकों को भी बड़ी राहत
प्रदेश सरकार ने सूबे के आलू उत्पादकों को भी बड़ा तोहफा दिया है. प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि सूबे के किसानों के बचे हुए आलू 487 रुपये प्रति क्विंटल की दर से एक एजेंसी करेगी. इससे उनके बचे हुए आलू बर्बाद नहीं होंगे.
19. निवेश के लिए ‘सिंगल विंडो सिस्टम’
यूपी सरकार ने राज्य में उद्योग धंधों को रफ्तार देने के लिए नई निवेश पॉलिसी जल्द लाने का ऐलान किया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि इन्वेस्टमेंट का अनुकूल माहौल तैयार करने के मकसद से निवेशकों को एक ही छत के नीचे सभी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी. योगी सरकार निवेश को ध्यान में रखते हुए ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ शुरू करेगी.
20. पिछली सरकार ने चीनी मिलों को जो अवैध तरीके से बेचा है सरकार उसकी सीबीआई जांच करवा सकती है.
courtsey-aajtak