बजरंगियों ने जबरन बंद कराया स्कूल, रामनवमी पर हो गई दो दिन की छुट्टी

नई दिल्ली: हिंदूवादी हुड़दंग लगातार बढ़ रहा है और संघ से जुड़े संगठनों की गुंडा गर्दी भी . राम नवमी के दिन जब लोग भगवान राम के चरित्र से सीख रहे थे , उनकी कथाओं का आयोजन हो रहा था तो भोपाल में बजरंग दल के कार्यकर्ता पूजापाठ छोड़कर स्कूलों के बाहर हंगामा कर रहे थे. इन लोगों ने भोपाल में कैंपियन स्कूल के बाहर हंगामा किया और उसे बंद करवा दिया. इससे बच्चे काफी डर गए. हुड़दंगियों का आरोप था कि छुट्टी के बावजूद ये स्कूल खुला हुआ था. हालांकि स्कूल के मैनेजमेंट ने कहा कि स्कूल में सीबीएसई के हिसाब से रामनवमी की छुट्टी 4 अप्रेल को ही होगई थी और एक दिन पहले ही स्कूल में रामनवमी की छुट्टी हो गई थी. बजरंग दल वाले दो दिन छुट्टी की मांग कर रहे थे.
बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने कैंपियन स्कूल के बाहर जय श्री राम और स्कूल विरोधी नारे लगाये. हंगामे के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई, लेकिन किया कुछ नहीं. बजरंगियों के हंगामे के बाद जब तक स्कूल के सेकेट्ररी ने लिखित रूप से माफी नहीं मांगी तब तक कार्यकर्ता वहां से नहीं गये.
स्कूल की प्रिसिंपल ए. लाकड़ा ने कहा कि हमनें सीबीएसई के नियमों के अनुसार मंगलवार को राम नवमी की छुट्टी दी थी, हम लोगों की भावनाओं की कद्र करते हैं. हमनें लिखित में माफी मांग ली है.
हमेशा ऐसा ही करता है स्कूल
बजरंग दल के जिला कॉर्डिनेटर लोकेश मालवीय ने आज तक से बातचीत में कहा कि यह स्कूल हमेशा से ही बहुसंख्यक समाज की भावनाओं के साथ भेदभाव करता है. बुधवार को सभी स्कूल बंद हैं, लेकिन यह स्कूल खुला था. यही कारण था हमनें स्कूल से लिखित रूप में माफी मांगी है, इस माफीनामा को हम जिला शिक्षा अधिकारी के पास लेकर जाएंगे. उन्होंने कहा कि हमनें उन्हें चेतावनी दी है कि आगे से ऐसी गलती ना करें, वरना उनके खिलाफ आंदोलन किया जाएगा.
वैलेंटाइन पर भी करते हैं ऐसा
बता दें कि बजरंग दल के कार्यकर्ता इससे पहले वैलेंटाइन डे पर भी देश के अलग अलग हिस्सों में पैट्रोलिंग करते नजर आते हैं. खासकर पार्कों में जाकर बजरंग दल के कार्यकर्ता प्रेमी जोड़ों के साथ बदसलूकी और मारपीट तक करते हैं.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें