शाइना एनसी को अश्लील मैसेज मामले को दबाना चाहती है बीजेपी, जानिए क्या है वजह

शाइना एनसी को अश्लील मैसेज मामले को दबाना चाहती है बीजेपी, जानिए क्या है वजह




नई दिल्ली. बीजेपी की राष्ट्रीय प्रवक्ता शायना एनसी को अश्लील और भद्दे मैसेज भेजने वाले शख्स का पता चल गया है. लेकिन अपनी इस नेत्री के साथ इतनी भद्दी हरकत होने के बाद भी बीजेपी चुप हैं. महिलाओं के सम्मान और बीजेपी की इज्जत के बीच बीजेपी ने पार्टी की इज्जत को चुना है. पार्टी इस मामले को दबाने में लगी है. दरअसल जो शख्स शायना को गंदे मैसेज भेज रहा था वह स्वयं भी बीजेपी से जुड़ा है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनाव में उनके लिए काम कर चुका है.

शिकायत मिलने पर पुलिस की छानबीन के बाद अश्लील मेसेज भेजने वाले शख्स की पहचान वाराणसी के जयंत कुमार सिंह उर्फ सिंकू के रूप में हुई है. वह बीजेपी कार्यकर्ता है और लोकसभा चुनाव के दौरान उसने पीएम मोदी के लिए काम किया था .

बीजेपी नेत्री ने आरोपी शख्स के खिलाफ सख्स से सख्त कार्रवाई करने की मांग की थी, ताकि इस तरह की हरकत करने वालों में कड़ा संदेश जाए. पिछले महीने फैशन डिजाइनर और बीजेपी कार्यकारिणी की सदस्य द्वारा फोन पर अश्लील और गंदे मैसेज भेजने वाले के खिलाफ पुलिस में शिकायत कराई गई थी.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस के मुताबिक शुरू में आरोपी ने शायना एनसी को बहन के रूप में बर्थ-डे का मैसेज भेजा था लेकिन जनवरी से उसके मैसेज नॉर्मल नहीं रह गए. आरोपी ने बीजेपी नेता को भद्दे और अश्लील मैसेज भेजने शुरू कर दिए. जिसके बाद शायना एनसी ने उसे सबक सीखाने का फैसला किया और इस मामले में शिकायत दर्ज कराई. मामला महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाने और आईटी एक्‍ट की धाराओं में दर्ज किया गया है.

शायना ने बताया, ”वह व्‍यक्ति सोशल मीडिया पर मुझे तंग कर रहा था. इसलिए ऐसे मामलों में जो किया जाना चाहिए वहीं मैंने किया. मैंने पुलिस में शिकायत की और मैं ऐसे लोगों को सबक सिखाना चाहती हूं.” शायना को पिछले साल दिसंबर से इस तरह के मैसेज मिल रहे थे. शायना मुंबई में रहती हैं और वह फैशन इंडस्‍ट्री का भी जाना पहचाना नाम है.

शायना के पिता मुस्लिम और मां हिंदू हैं. वहीं शायना एनसी के पति जैन हैं. वह महिला आरक्षण की समर्थक हैं और लंबे समय से इसे लागू करने के लिए आवाज उठा रही हैं. साथ ही कई मुद्दों पर वह पार्टी के रूख से अलग हटकर भी बोलती रही हैं.