आखिरी चरण में मुलायम ने संभाला मोर्चा, ‘ईद को दिवाली से लड़ाने वालों से सावधान रहें’

आखिरी चरण में मुलायम ने संभाला मोर्चा, ‘ईद को दिवाली से लड़ाने वालों से सावधान रहें’




नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण के रण में समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव भी कूद ही गए. जौनपुर जिले के मल्हनी विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करते हए उन्होंने भाजपा पर ताबड़तोड़ हमला किया. कोलाहलगज बैजा रामपुर गांव की सभा में उन्होंने पीएम मोदी का नाम लिए बिना ही कहा कि जनता को झूठ बोलने वालों से सावधान रहने की जरूरत है. उन्होंने अपने 34 मिनट के भाषण में सिर्फ भाजपा को ही निशाने पर रखा.

मुलायम सिंह ने भाजपा को जुमला पार्टी कहा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने लोगों के खाते में 15 लाख भेजने का वादा किया था. बाद में लोगों को बेवकूफ बनाया. वह अपना बाद भूल गए.

सपा संरक्षक ने कहा कि केंद्र सरकार ने दो करोड़ लोगों को नौकरी देने का वादा किया था लेकिन किसी को भी नौकरी नहीं मिली.

एक बार भी बसपा पर प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष वार नहीं किए. मुलायम सिंह यादव ने अपने बातों के जरिए युवा,किसान,गरीब और मजदूर वर्ग को साधने की कोशिश की.

उन्होंने कहा कि पहले 21 की उम्र में मतदान करने अधिकार मिलता था. लेकिन  मेरे संघर्ष की बदौलत ही 18 वर्ष की उम्र में ही मतदान करने का अधिकार मिल गया.

उन्होंने कहा कि देश के पिछड़ेपन का सबसे बड़ा कारण बेरोजगारी है. जब हर हाथ को रोजगार को मिलेगा तो गरीबी दूर हो जाएगी.

उन्होंने कहा कि जौनपुर की जनता हमारे संघर्ष के दिनों में भी हमारे साथ रही है.

वहीं इस सभा में केबिनेट मंत्री आजम खान ने भाजपा-आरएसएस पर बड़ा हमला किया. उन्होंने कहा कि बापू के हत्यारों से सावधान रहना . कहा कि वह लोग अब कब्रिस्तान को श्मशान से तो ईद को दिवाली से लड़ाने की कोशिश कर रहे हैं.

भाजपा वाले बात को किसी और दिशा में देने की हमेशा कोशिश करते रहते हैं. भाजपा वालों को यूपी की जनता जवाब देगी.