अमेरिका में फिर भारतीय लड़की पर नस्लीय हमला, न्यूयॉर्क टाइम्स ने उठाया मामला

नई दिल्ली: अमेरिका के मोदी डोनाल्ड ट्रंप की सरकार आने के बाद दूसरे देशों के लोगों पर नस्लीय टिप्पणी और हमले बढ़ते ही जा रहे हैं. ऐसा ही एक मामला भारतीय लड़की के साथ हुआ. लोकल ट्रेन में सफर के दौरान भारतीय लड़की पर नस्लीय टिप्पणी की गई.

दरअसल मामला मैनहट्टन का है, जहां सिख मूल की एक अमेरिकी लड़की को पश्चिम एशिया की निवासी समझते हुए एक श्वेत व्यक्ति ने उस पर हमला कर दिया. वह कथित तौर पर लेबनान वापस जाओ और तुम्हारा हमारे देश से कोई नाता नहीं है चिल्ला रहा था. दक्षिण एशियाई मूल के लोगों पर हो रहे सिलसिलेवार घृणित हमलों का यह ताजा मामला है.

न्यूयॉर्क टाइम्स की खबर के अनुसार राजप्रीत इस महीने उपमार्ग ट्रेन से मैनहट्टन अपने दोस्त की जन्मदिन पार्टी में जा रही थी जब एक श्वेत व्यक्ति ने उसपर चिल्लाना शुरू कर दिया. राजप्रीत ने टाइम्स के द वीक हैट नामक सेक्शन में एक वीडियो में इस वाक्ये का जिक्र किया.

द वीक हैट में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सत्ता में आने के बाद से देश में हो रहे घृणा एवं उत्पीड़न अपराधों को उजागर किया जाता है. राजप्रीत ने बताया कि वह अपने फोन में देख रही थी जब एक श्वेत व्यक्ति ने उस पर चिल्लाते हुए कहा, क्या तुम्हें पता भी है कि नौसैनिक कैसे दिखते हैं. क्या तम्हें पता है कि उन्हें क्या देखना पड़ता है. उन्होंने इस देश के लिए क्या किया है. सिर्फ तुम्हारे जैसे लोगों की वजह से .

उसने राजप्रीत को कहा कि उसे उम्मीद है कि उसे लेबनान वापस भेज दिया जाएगा और उसने जोर से चिल्लाते हुए कहा कि तुम्हारा हमारे देश से कोई नाता नहीं है. उन्होंने बताया कि व्यक्ति के ट्रेन से उतरने के बाद उसने एक युवा श्वेत महिला को उसकी ओर देखते देखा जिसकी आंखों में आंसू भरे थे.

इससे पहले भी ट्रेन में एक और भारतीय लड़की पर नस्लभेदी टिप्पणी की गई थी. लड़की का नाम एकता देसाई था. उसपर एक व्यक्ति ने टिप्पणी करते हुए उसे गालियां दी और कहा अमेरिका से बाहर चली जाओ.

एकता ने 23 फरवरी को अपने फेसबुक प्रोफाइल पर एक विडियो पोस्ट किया. इसमें एक शख्स उन्हें नस्लीय गालियां दे रहा है. फेसबुक पोस्ट में एकता देसाई ने कहा है कि उनकी इस शख्स से मुलाकात ट्रेन में हुई में हुई जब वह काम पर जा रही थीं. पोस्ट में उऩ्होंने लिखा है कि वह अचानक मेरे पास आया और गाली देने लगा. वह मुझे अमेरिका से वापस जाने के लिए कहने लगा. उन्होंने लिखा है कि उसने मुझे धमकी भी दी.

बता दें कि अभी कुछ ही दिन पहले अमेरिका के ही कंसास में एक भारतीय इंजिनियर की हत्या कर दी गई थी. शूटर ने यह कहते हुए गोली मार दी थी कि ‘मेरे देश से निकल जाओ’. घटना अमेरिका के कंसास में हुई थी, जिसकी हत्या हुई थी उसका नाम श्रीनिवास था. वह अमेरिका में इंजीनियर था.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें