वीरेन्द्र सहवाग का वायरल वीडियो, पाकिस्तान की कर रहे हैं तारीफ, ट्वीट करना पड़ रहा है महंगा

नई दिल्ली. गुरमेहर कौर के  मामले में उल्टा सीधा ट्वीट करके वीरेन्द्र सहवाग फंस गए हैं हालात ये हैं कि वो सफाई पर सफाई दे रहे हैं कि उनका इरादा हमले करने का नहीं था लेकिन न तो उनके समर्थक उनकी बात को मानने को तैयार हैं न विरोधी. हालात ये हैं कि सहवाग के माथे पर गुर मेहर का विरोधी होना लिख गया है. अब सहवाग के पाकिस्तान प्रेम का एक वीडियो भी भाई लोगों ने ढूंढ निकाला है. इस वीडियो में वीरेन्द्र सहवाग को पाकिस्तान की ताऱीफ करते बताया गया है.

सहवाग कह रहे हैं कि पाकिस्तान के लोग बहुत अच्छे होते हैं. मैं जब वहां गया तो दिल खुश हो गया. वो पाकिस्तान के मटन की भी तारीफ कर रहे हैं.

स्टार स्पोर्ट्स का ये वीडियो 20 साल की छात्रा के  ‘आई एम नॉट अफ्रेड ऑफ एबीवीपी’ अभियान के बाद आया है. सोशल मीडिया पर यह अभियान वायरल हो गया और इसे विभिन्न विश्वविद्यालयों के छात्रों से पुरजोर समर्थन मिला. उसने सोशल मीडिया पर पिछले साल ‘पाकिस्तान ने मेरे पिता को नहीं मारा बल्कि युद्ध ने मारा’ तख्ती लेकर युद्ध विरोधी संदेश दिया था.

सहवाग ने दी सफाई, गुरमेहर के लिए नहीं थे मेरे ट्वीट डीयू की छात्रा गुरमेहर कौर का वीडियो वायरल होने के बाद उस पर अपने चुटीले ट्वीट को लेकर वीरेंद्र सहवाग ने सफाई दी है. सहवाग ने कहा कि उनका पोस्ट पूरी तरह से हास्य विनोद था, लेकिन उसे गलत तरीके से लिया गया.

सहवाग ने इस तस्वीर की तर्ज पर अपनी एक तस्वीर डाली, जिसमें उन्होंने एक तख्ती पकड़ रखी है, जिस पर लिखा था, ‘मैंने दो तिहरे शतक नहीं बनाए, मेरे बल्ले ने बनाए.’ इसके बाद सोशल मीडिया पर काफी हंगामा मचा, जिसे लेकर सहवाग ने साफ किया कि मेरे ट्वीट गुरमेहर के लिए नहीं थे. यह पूरी तरह से हास्य विनोद था, लेकिन लोगों ने इसे अलग तरह से लिया.

योगेश्वर दत्त, गीता एवं बबीता फोगट ने भी गुरमेहर की आलोचना की. साथ ही अभिनेता रणदीप हुड्डा ने भी गुरमेहर को निशाने पर लिया, लेकिन बाद में आलोचनाओं के घेरे में आने के बाद उन्होंने एक खुला खत ‘हास्य को लेकर मुझे सूली पर मत चढ़ाओ’ लिखा.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें