हिंसक गुंडे को मोदी का इनाम, शरद पवार, गिलानी, प्रशांत भूषण, पर अटैक करने वाले को प्रवक्ता बनाया

नई दिल्ली:  मोदी सरकार के आने के बाद बीजेपी ने पहली बार कि सी हिंसक और असामाजिक तत्व को उसकी गुंडागर्दी के लिए सम्मानित किया है. वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण को चेंबर में घुसकर उन्हें गिरा गिराकर मारने वाले और केन्द्रीय मंत्री शरद पवार को थप्पड़ मारने वाले तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को बीजेपी ने अपना प्रवक्ता बना दिया है. बग्गा ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह और दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी का बाकायदा शुक्रिया अदा किया है. बग्गा ने कहा कि भरोसा जताने और दिल्ली भाजपा प्रवक्ता की जिम्मेदारी सौंपने के लिए शुक्रिया. वहीं, रेलमंत्री सुरेश प्रभु समेत पार्टी के कई दिग्गज नेताओं ने बग्गा को बधाई दी है.

प्रशांत पर हमला करने के बाद बग्गा ने ट्वीट किया था कि प्रशांत भूषण ने देश तोड़ने की कोशिश की है, तो मैंने उसका सिर तोड़ने की कोशिश किया. अब हिसाब चुकता. ऑपरेशन प्रशांत भूषण सफल रहा और सभी को बधाई. इसके साथ ही उन्होंने अरुंधति राय की किताब ‘ब्रोकन रिपब्लिक’के खिलाफ प्रदर्शन किया था। इसके साथ ही बग्गा ने अलगावदवादी नेता सैयद अली शाह गिलानी पर भी हमला किया था. इसके अलावा बग्गा ने सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश को पेशाब पिलाने की धमकी दी थी और टेनिस स्टार सानिया मिर्जा के पाक क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी करने पर भी बग्गा ने निशाना साधा था.

साल 2012 में बग्गा ने सुप्रीम कोर्ट में चेंबर में घुसकर प्रशांत भूषण के साथ मारपीट की थी, जिसके बाद सुर्खियों में आया था. वो तब के कृषि मंत्री शरद पवार को भी थप्पड़ मार चुका है और उनपर कृपाण भी तान चुका है. इसी सरकार ने शरद पवार को पद्मविभूषण भी दिया है.एक बार बग्गा बीजेपी छोड़ भी चुका हैं. उसलका कहना था कि आप किसी पार्टी के सदस्य रहकर राष्ट्र विरोधियों से नहीं लड़ सकते.

एक साक्षात्कार में बग्गा ने कहा था कि आपको हर चीज के लिए पार्टी नेतृत्व से अनुमति लेनी होती है. बग्गा ने कहा था, “अगर मुझे हर बात के लिए पार्टी से मंजूरी लेनी पड़े, तो मैं देशद्रोहियों के खिलाफ नहीं लड़ सकता. लिहाजा मैंने पार्टी छोड़ दी. ” इसके बाद बग्गा ने भगत सिंह क्रांति सेना बनाई थी और धमकी दी थी कि अगर किसी ने राष्ट्र विरोधी बात की, तो उसे खून की होली खेलनी पड़ेगी.

प्रशांत पर हमला करने के बाद बग्गा ने ट्वीट किया था कि प्रशांत भूषण ने देश तोड़ने की कोशिश की है, तो मैंने उसका सिर तोड़ने की कोशिश किया. अब हिसाब चुकता. ऑपरेशन प्रशांत भूषण सफल रहा और सभी को बधाई. इसके साथ ही उन्होंने अरुंधति राय की किताब ‘ब्रोकन रिपब्लिक’के खिलाफ प्रदर्शन किया था। इसके साथ ही बग्गा ने अलगावदवादी नेता सैयद अली शाह गिलानी पर भी हमला किया था. इसके अलावा बग्गा ने सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश को पेशाब पिलाने की धमकी दी थी और टेनिस स्टार सानिया मिर्जा के पाक क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी करने पर भी बग्गा ने निशाना साधा था.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें