जियो की कैब भूल जाओ, अभी ओला उबर ही हैं विकल्प, जानिए कैब के मामले में अंबानी के क्या हैं प्लान

जियो की कैब भूल जाओ, अभी ओला उबर ही हैं विकल्प, जानिए कैब के मामले में अंबानी के क्या हैं प्लान




जयपुर: पिछले एक हफ्ते में ये तीसरी बड़ी खबर है जो सोशल मीडिया और वेब मीडिया पर छायी रही लेकिन थी सिरे से गलत. पहले चुनाव के लिए नकली उंगिलयों की झूठी तस्वीर आई फिर एक हज़ार रुपये का नया नोट आने की बात आई और अब ये जियोकैब वाली खबर.
हाल ही में ऐसी खबर आईं थी कि फ्री 4जी के बाद कंपनी रिलायंस जियो कैब सर्विस लॉन्च करने की तैयारी में है, लेकिन कंपनी ने ऐसी खबरों को खारिज किया है. रिलायंस के प्रवक्ता ने ट्वीट करके कहा, ‘रिपोर्ट गलत है और इसका खंडन किया जाता है. कंपनी के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि कंपनी का असंबद्ध विविध क्षेत्रों में उतरने का कोई इरादा नहीं है.
एक वेबसाइट की रिपोर्ट में कहा गया था कि मुकेश अंबानी इस साल के अंत तक इस सेवा को लॉन्च कर सकते हैं. रिपोर्ट में कहा गया था कि कंपनी की यह सर्विस सबसे पहले बंगलूरू और चेन्न्ई में लॉन्च होगी.
इसके बाद दिल्ली और मुंबई में. इन शहरों के बाद यह जयपुर और भोपाल जैसे शहरों में शुरू हो सकती है. इसके बाद एक के बाद एक कई वेब साइट्स ने इस खबर को बिना सोचे समझे प्रकाशित कर दिया.

रिपोर्ट में ऐसा तक कहा गया था कि कंपनी 600 कार खरीदने का ऑर्डर भी दे चुकी है. मालूम हो कि इससे पहले हाल ही में एसी खबरें भी आई थीं कि रिलायंस जियो अब डीटीएच (डायरेक्ट टू होम) सर्विस भी लॉन्च करने वाली है. जैसे रिलायंस जियो ने शुरुआत में अपने ग्राहकों को मुफ्त में सभी सुविधाएं यानी कॉलिंग, डाटा, रोमिंग, मैसेज दिए थे, उसी तरह डीटीएच की भी सेवाएं शुरुआत में ग्राहक बढऩे तक मुफ्त रखी जा सकती हैं.