राज्यसभा में रेनकोट वाले बयान पर सरकार की सफाई, कहा-विपक्ष ने गलत समझ लिया

नई दिल्ली: मनमोहन सिंह पर रेनकोट वाली टिप्पणी करने के बाद मनमोहन सिंह ने तो उन्हें इग्नोर करके करारा जवाब दे ही दिया था. तिलमिलाए मोदी इसका कोई जवाब नहीं ढूढ पा रहे थे. अब सरकार ने लगातार हो रही आलोचनाओं की बौछारों से खुद को बचाने के लिए नया रेनकोट निकाला है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने अब कहा है कि लोगों ने मोदी की टिप्पणी का गलत मतलब निकाल लिया.

पीएमओ में राज्यमंत्री प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में राज्यमंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर की गई रेनकोट वाली टिप्पणी हकीकत में उनकी तारीफ थी. लोग समझ नहीं पाए. पूर्व पीएम यूपीए सरकार में हुए घोटालों के बावजूद बेदाग रहे हैं. जितेंद्र सिंह ने कहा कि मनमोहन सिंह पर उनके सहयोगियों की सवालों में घिरी कार्यप्रणाली का भी कोई असर नहीं पड़ा.

जितेंद्र सिंह कहा कि इस सबके बावजूद वे बेदाग बाहर आ गए तो पीएम की टिप्पणी को प्रशंसा के परिप्रेक्ष्य में लिया जाना चाहिए. डॉ सिंह ने जम्मू में पत्रकारों से बातचीत में कहा, असल में कांग्रेस नेतृत्व एक परिवार के बाहर किसी भी व्यक्ति की प्रशंसा को स्वीकार करने में असहज रहता है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चाहे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह हों या फिर पीवी नरसिंह राव और सरदार पटेल. कांग्रेस ने हमेशा ही परिवार विशेष के बाहर के व्यक्तित्व की तारीफ करने या स्वीकार करने से परहेज किया है. उन्होंने कहा कि वे हमेशा अपने नेताओं की तारीफ करने में यह सोच कर डरते हैं कि इससे कहीं एक खास परिवार या वंश नाराज न हो जाए.

इस बात से दूरी बनाए रखी. जितेंद्र सिंह ने आरोप लगाया कि विपक्ष संसद में बहस करने से बचता रहा है. उन्होंने कहा, सरकार हर मुद्दे पर चर्चा को तैयार है, बावजूद इसके कि विरोध के स्वर उठ रहे हों. खुद संसदीय मामलों के मंत्री और पार्टी प्रवक्ता इस आशय को स्पष्ट कर चुके हैं.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें