ओमपुरी का निधन

ओमपुरी का निधन

नई दिल्ली: मशहूर एक्टर ओमपुरी  का निधन हो गया है. ओमपुरी  66 साल के थे. आज सुबह ओमपुरी  ने आखिरी सांस ली. उन्हें दिल का दौरा पड़ा था.
इस खबर से पूरा बॉलीवुड सदमे में है.
मधुर भंडारकर ने कहा है कि ‘यकीन नहीं हो रहा है कि ऐसा हुआ है. उन्होंने इंटरनेशनल लेवल पर अपने अभिनय का कमाल दिखाया है. मुझे ये खबर सुनकर बहुत दुख हुआ.’

पिछले साल रिलीज हुई फिल्म ‘द जंगल बुक’ में ओमपुरी  ने बघीरा को अपनी दमदार आवाज दी थी जिसे काफी पसंद किया गया था. इसके अलावा पिछले साल ओमपुरी  फिल्म ‘एक्टर इन लॉ’ में नजर आए थे. नबील कुरैशी निर्देशित उनकी ये उर्दू फिल्म 13 सितंबर को रिलीज हुई थी.

सन 1993 में ओमपुरी  की शादी नंदिता पुरी से हुई थी लेकिन 2013 में ये दोनों अलग हो गए थे. ओमपुरी  का एक बेटा है जिसका नाम इशान है.

ओमपुरी  का जन्म 18 अक्टूबर 1950 में हरियाणा के अम्बाला शहर में हुआ था. उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने ननिहाल पंजाब के पटियाला से पूरी की. 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ओमपुरी ने लगभग डेढ़ वर्ष तक एक स्टूडियो में अभिनय की शिक्षा दी. बाद में ओमपुरी ने अपने निजी थिएटर ग्रुप “मजमा” की स्थापना की.

ओमपुरी  ने अपने फ़िल्मी सफर की शुरुआत मराठी नाटक पर आधारित फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की थी. वर्ष 1980 में रिलीज फिल्म “आक्रोश” ओमपुरी  के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुई.

‘अर्द्ध सत्य’, ‘जाने भी दो यारों’, ‘नसूर’, ‘मेरे बाप पहले आप’, ‘देहली 6’, ‘मालामाल वीकली’, ‘डॉन’, ‘रंग दे बसंती’, ‘दीवाने हुए पागल’, ‘क्यूँ ! हो गया ना’, ‘काश आप हमारे होते’ और ‘प्यार दीवाना होता है’ जैसी सैकड़ों फिल्मों में नज़र आ चुके हैं.