गुजरात के चाय वालों का जवाब नहीं, मोदी ने वैसे नाम कमाया और इसने ऐसे …

गुजरात के चाय वालों का जवाब नहीं, मोदी ने वैसे नाम कमाया और इसने ऐसे …

नई दिल्ली: गुजरात के चाय वाले हमेशा कुछ हटकर होते हैं. प्रधानमंत्री मोदी के बाद अब सूरत का ये चाय वाला चर्चा में है. इस शख्स के खाते मे करोड़ों रुपय मिले हैं. वो भी बाकायदा इनकम टैक्स के छापे में. इस शख्स ने नोटबंदी के बाद बैंक खातों में डेढ़ करोड़ जमा कराए. सूरत में चाय-पकौड़े के ठेले से शुरुआत कर प्रॉपर्टी डीलर बन जाने वाले. इस शख्स के ठिकाने पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने छापा मारा तो 23 लाख रुपए के नए और पुराने नोट बरामद किए. इस चायवाले के पास इतनी दौलत होगी कोई जानता ही नहीं था. सब इसे फक्कड़ फकीर से ज्यादा नहीं समझते थे. इस शख्स ने नोटबंदी के बाद 15 अलग-अलग बैंक खातों में डेढ़ करोड़ रुपए जमा कराके फिक्स्ड डिपॉजिट करा दिया था. ये इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की नजर में नहीं आता अगर इसने जोश में आकर जनधन खाते में भी पैसा डालकर फिक्स डिपॉजिट न कराया होता.

किशोर पकौड़े वाले के नाम से मशहूर ये शख्स 5 से 10 फीसदी ब्याज वसूल कर लोगों को कर्ज भी देता था. 2006 तक ये चाय और पकौड़े का ठेला ही लगाता था. फिर इसने फाइनेंस और प्रॉपर्टी के कारोबार में हाथ आजमाना शुरू कर दिया. इसने करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी भी सूरत में खरीद रखी है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के इवेंस्टीगेशन विंग के सर्च ऑपरेशन में इस शख्स की सारी पोल-पट्टी सामने आ गई.

31 साल पहले सूरत में चाय और पकौड़े के ठेले से शुरुआत करने वाले किशोर ने जो आईटी रिटर् न फाइल की है उस में अपनी सालाना कमाई 8 लाख रुपए ही दिखाई है.

बताया जा रहा है कि किशोर ने सूरत में 200 से भी ज्यादा प्रॉपर्टीज में निवेश कर रखा है. इस समय किशोर की हैसियत इतनी है कि बिल्डर्स से लेकर कारोबारियों तक को फाइनेंस करता है.