इस्तीफे की हवा तक नहीं लगने दी जंग ने, बैठे बिठाए कांड कर दिया.

इस्तीफे की हवा तक नहीं लगने दी जंग ने, बैठे बिठाए कांड कर दिया.




नई दिल्ली: नजीब जंग ने अपने इस्तीफे से सबको हैरान कर दिया है. इस खबर से सब जैसे चौंक गए. दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उप-राज्यपाल नजीब जंग के इस्‍तीफे पर हैरानी जताई है। उन्‍होंने लिखा, ”जंग का इस्‍तीफा मेरे लिए चौंकाने वाला है। भविष्‍य के लिए उन्‍हें मेरी शुभकामनाएं।” गुरुवार को जब केजरीवाल ने यह ट्वीट किया तो यूजर्स ने उन्‍हें घेर लिया। कई यूजर्स ने इस्‍तीफे के बाद केजरीवाल की पलटी पर हैरानी भी जताई। वहीं कुछ ट्रोल अकाउंट्स ने कहा कि ‘इतना प्‍यार मत दिखाइए, वरना जंग इस्‍तीफा वापस ले लेंगे।’ एक यूजर ने लिखा, ‘ये बहुत बुरा हुआ, आपका एक बहाना कम हो गया सर।’

इधर केजरीवाल तो उधर केंद्र सरकार को भी जंग ने झटका दिया. जंग के बॉस केन्द्रीय गृहसचिव राजीव महर्षि ने कहा कि हमें इस्तीफे के बारे में पहले नहीं बताया गया था. वो कुछ दिन पहले मुझसे मिले थे लेकिन तब भी उन्होंने इस्तीफे के कोई संकेत नहीं दिए थे.

महर्षि ने कहा कि जंग के इस्तीफे का कारण क्या रहा, यह मैं नहीं जानता लेकिन उन्होंने खुद प्रेस रिलीज में बताया है कि वे वापस एकेडमिक्स की ओर लौटने के लिए इस्तीफा दे रहे हैं.

गृहसचिव ने कहा है कि न तो नजीब जंग से इस्तीफा देने को कहा गया था और न ही मंत्रालय को उन्होंने पहले इसके कोई संकेत दिए थे.

उन्होंने कहा कि गृहमंत्रालय को अब तक उनके इस्तीफे की कॉपी नहीं मिली है. ये इस्तीफा गृहमंत्रालय को या सीधे राष्ट्रपति को भेजा जा सकता है. गृह सचिव ने ये भी साफ किया कि नजीब जंग से इस्तीफा देने के लिए नहीं कहा गया था. यहां तक कि शुक्रवार को उनसे उनकी दिल्ली के कामकाज को लेकर मुलाकात भी होनी थी।.