करोड़ों बदलने का खेल तो RBI के लेवल पर हो रहा है, बैंक मैनेजर तो बदनाम हैं

करोड़ों बदलने का खेल तो RBI के लेवल पर हो रहा है, बैंक मैनेजर तो बदनाम हैं

नई दिल्ली: बैंक मैनेजरों को लगातार बदनाम करने की कोशिश हो रही है ताकि सरकार ध्यान नोटबंदी के दुष्परिणामों से हटाया जा सके. दर असल सारा खेल आरबीआई के स्तर पर हो रहा है. दो दिन पहले बैंकर्स यूनियन के एक पदाधिकारी ने ये बात कही तो सभी ने इसे हवा में उड़ा दिया. लेकिन अब सीबीआई ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के एक अधिकारी को गिरफ्तार किया है.

आरोपी अधिकारी बंगलुरु में बतौर सीनियर स्पेशल अस्टिटेंट तैनात है. 1.51 करोड़ रुपये के पुराने नोट बदलने के आरोप में आरबीआई अधिकारी को गिरफ्तार किया गया है. आरोपी अधिकारी के पास से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी बरामद हुए हैं.

अधिकारी का नाम के. मिशेल है. मिशेल पर 1.51 करोड़ रुपये के पुराने नोट बदलने का आरोप है. सीबीआई ने स्टेट बैंक ऑफ मैसूर में हुए घोटाले में मिशेल को गिरफ्तार किया है. इस मामले में सीबीआई ने मंगलवार को दो और लोगों को भी गिरफ्तार किया है. इनके पास से सीबीआई ने 16 लाख 84 हजार रुपये की रकम बरामद की है.

आरबीआई अधिकारी मिशेल के पास से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए गए हैं. सूत्रों की माने तो के. मिशेल नोट बदलने में बैंक अधिकारियों की मदद कर रहा था. फिलहाल सीबीआई आरोपी अधिकारी से पूछताछ कर रही है. सीबीआई जल्द इस मामले में चौंकाने वाले खुलासे करते हुए कई और गिरफ्तारियां कर सकती है.

गौरतलब है कि मंगलवार को सीबीआई ने हवाला ऑपरेटर के.वी. वीरेंद्र को भी बंगलुरु से गिरफ्तार किया है. साथ ही सीबीआई ने बंगलुरु के ही 4 बैंक अधिकारियों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है. बैंक अधिकारियों पर पुराने नोटों को नये नोटों से बदलने का आरोप है. बताते चलें कि बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से कालेधन को सफेद करने का एक मामला दिल्ली में भी सामने आया था, जहां एक्सिस बैंक के दो प्रबंधकों ने सोने की ईंटें लेकर तकरीबन 40 करोड़ के कालेधन को सफेद किया था.