विदेश भागने से पहले उसने किया था इन नेताओं के कालेधन का कल्याण, पूछताछ में बेनकाब हो रहे हैं नामी चेहरे

नई दिल्ली: काले नोट सफेद करने के आरोपी पारसमल लोढ़ा से ईडी की पूछताछ में कई बड़े नाम सामने आ रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक लोढ़ा ने पूछताछ के दौरान अब तक रोहित टंडन, शेखर रेड्डी और तमिलनाडु के सात बिज़नेसमैन समेत कई नेताओं से उसका सम्पर्क होने की बात क़बूली है. इसके अलावा भी दिल्ली के कई बड़े नेताओं का धन सफेद करने की जानकारियां समाने आ रही हैं.

पारसमल लोढा को बीते बुधवार को मुंबई एयरपोर्ट से उस वक्त गिरफ्तार किया गया था, जब वह विदेशी भागने की फिराक में था. ईडी को पता चला कि पारसमल गिरफ़्तारी से पहले मलेशिया जाने की फ़िराक़ मे था. जहां उसे पुरानी करेंसी बदलने के दो काम मिले थे, उसी के लिये वह जा रहा था. लोढ़ा ने दिल्ली और साउथ के कुछ नेताओं के पैसे भी बदले हैं.

ईडी की टीम ने गुरुवार को उसे दिल्ली की साकेत कोर्ट में पेश कर पूछताछ के लिए रिमांड मांगा था. पारसमल लोढा ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने अब तक कुल 11 करोड़ रूपये के पुराने नोटों को नए नोटों मे बदला है. नई करेंसी पारसमल को दूसरे लोगों से मिलती थी, जो बैंक और हवाला कारोबार में शामिल हैं.

पूछताछ में ईडी को पता चला कि पारसमल पुरानी करेंसी को 30 प्रतिशत कमीशन पर बदलता था. उसके संबंध विदेशी हवाला कारोबारियों से भी हैं. हाल ही वो पुरानी करेंसी की बड़ी खेप को बदलवाने के लिये दुबई जाने वाला था.

पारसमल लोढ़ा का सम्पर्क अंडरवर्ल्ड के सबसे बड़े डॉन दाऊद के गुर्गों से भी रहा है. पता चला है कि कई वर्षों पहले उसने पियरलेस नाम की कम्पनी को ज़बरन ख़रीदने के लिये दाऊद के गैंग की मदद ली थी.

पूछताछ के बाद ईडी पारसमल लोढा को लेकर कई और जगहों पर भी जाने वाली है. क्योंकि इस मामले मे कई हवाला आपरेटर्स और दलालों की गिरफ़्तारी की जानी है.

ईडी को इस मामले मे एक शख़्स की तलाश है, जिसने लोढ़ा का परिचय रोहित टंडन से कराया था. जानकारी के मुताबिक एक दो दिन मे लोढ़ा का रोहित टंडन और शेखर रेड्डी से भी आमान सामना कराया जायेगा.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें