जैन समाज के जुलूस में शामिल हुआ हाथी पागल हुआ, ट्रेक्टर को बुरी तरह तोड़ा. जानिए कैसे बचे लोग

जैन समाज के जुलूस में शामिल हुआ हाथी पागल हुआ, ट्रेक्टर को बुरी तरह तोड़ा. जानिए कैसे बचे लोग




मध्यप्रदेश के भिंड में एक बड़ा हादसा होने से टल गया. यहां जैन समाज के हज़ारों की भीड़ वाले एक समारोह में शामिल हुआ एक हाथी पागल हो गया. उसने गुस्से में एकट्रैक्टर को तहस नहस कर दिया. गनीमत ये रही कि हाथी समारोह के दूसरे दिन बेकाबू हुआ. अगर भीड़ के बीच हाथी गुस्से में आ जाता हो सैकड़ों लोगों की जान जा सकती थी.

जैन समुदाय के पंचकल्याणक महोत्सव में हमीरपुर उत्तरप्रदेश से मध्यप्रदेश के भिंड आए एक पालतू हाथी को आवार कुत्ते ने काट लिया. कुत्ते के काटने के बाद जब महावत हाथी को इंजेक्शन लगवाने इंजेक्शन लगवाने जानवरों के अस्पताल ले गया तो हाथी गुस्से में आ गया.

गुस्साए हाथी ने सामने पड़े एक ट्रैक्टर को अपना निशाना बनाया और ट्रैक्टर बुरी तरह उलट पलट दिया.  गनीमत यही रही की उसका गुस्सा ट्रेक्टर पर ही निकल गया और बाद में महावत ने अंकुश से कही बार अटैक करके उसे काबू किया. हाथी को थोड़ी देर बाद बांध दिया गया..

16nob16bhd_16_11_2016

– भिंड में जैन पंचकल्याणक महोत्सव के लिए 10 नवम्बर को हमीरपुर 3 हाथी लाए गए थे.
– एक दिन पहले इनमें से एक हाथी को कुत्ते ने काट लिया, 16 नवंबर को उसमें हल्के उन्माद के लक्षण नजर आए तो महावत गोरे लाल उसे अस्पताल ले कर आए.
– यहां उसे एंटी-रैबीज इंजेक्शन दिया गया, इंजेक्‍शन लगते ही वह बेकाबू हो गया, उसने वहां रखे एक ट्रैक्टर को उलट-पुलट दिया.
– हाथी को काबू करने के लिए महावत को कई बार उसके ऊपर अंकुश का प्रहार करना पड़ा.
– कई बार अंकुश लगने से हाथी की सूंड भी जख्मी भी हो गई, आखिरकार उसके पैरों में जंजीर डालकर उसे जकड़ दिया गया.
– महावत गोरे लाल ने बताया कि हाथी को सामान्य होने में 15 दिन लगेंगे

चेतावनी: वीडियो में कुछ स्थानों पर अपशब्दों का प्रयोग किया गया है. कृपया बच्चे न देखें.