ABVP पर गुंडागर्दी का आरोप, JNU में छात्राओं से की मारपीट

ABVP पर गुंडागर्दी का आरोप, JNU में छात्राओं से की मारपीट




नई दिल्ली। देश के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय जेएनयू से गायब छात्र का मुद्दा दिल्ली विश्वविद्यालय पहुंच गया है। लेफ्ट विंग के छात्र संगठन आइसा ने डीयू में एक जनसभा का आयोजन किया था जिसमें आरएसएस समर्थित छात्र संगठन एबीवीपी पर धक्कामुक्की और मारपीट का आरोप लगा है।

आइसा का कहना है कि हम जेएनयू के छात्र नजीब अहमद की वापसी के लिए एक जनसभा कर रहे थे तभी एबीवीपी से दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष अमित तंवर अपने समर्थकों के साथ आए और हमसे मारपीट तथा धक्कामुक्की करने लगे।

आइसा के एक कार्यकर्ता सनी कुमार ने आरोप लगाया कि उन्होंने हमारे पोस्टर और पर्चे फाड़ दिए। उन्होंने हमारे दिल्ली युनिवर्सिटी इकाई की अध्यक्ष कंवलप्रीत कौर से मारपीट भी की और कविता कृष्णन को बोलने भी नहीं दिया। पुलिस ने भी कार्यक्रम को रद्द करवा दिया।

आपको बता दें कि यह कार्यक्रम आइसा द्वारा “आइडिया ऑफ युनिवर्सिटी” नाम से अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और लापता छात्र नजीब अहमद के समर्थन के लिए देश के विभिन्न सस्थानों में आयोजित किया जा रहा है।

एक्टिविष्ट कविता कृष्णन ने आइसा के सपोर्ट में एक वीडियो भी पोस्ट किया है जिसमें एबीवीपी कार्यक्रम को बाधित करती दिख रही है। उन्होंने ट्वीट भी किया है, “पुलिस ने एबीवीपी के प्रोत्साहन से आईसा डुसू अध्यक्ष कंवलप्रीत कौर पर बर्बरता पू्र्वक कार्रवाई की जिसमें कंवलप्रीत कौर घायल हैं”

दिल्ली के एक पत्रकार सैयद हसन काज़िम ने भी अपने फेसबुक पेज पर इस कार्रवाई की बात पोस्ट की है। काज़िम ने लिखा “क्या आपने देशभक्त बीजेपी के छात्र संगठन एबीवीपी की गुंडई देखी? एक गुंडों का ग्रुप ही ऐसे कारनामें कर सकता है। यदि आप यह कार्रवाई देखना चाहते हैं तो दिल्ली विश्वनविद्यालय जाइए और एबीवीपी के गुंडों की गुंडई देखिए।” ctsy-nationaldastak