मोदी के पास भेजी गई वरुण गांधी और एक लड़की के रिश्तों की सीडी, अमेरिकी वकील ने भेजी चिट्ठी

मोदी के पास भेजी गई वरुण गांधी और एक लड़की के रिश्तों की सीडी, अमेरिकी वकील ने भेजी चिट्ठी

नई दिल्ली: वरुण गांधी के सीडी और फोटो से सनसनी मच गई है. इस सीडी में वरुण गांधी और एक लड़की के साथ रिश्तों का जिक्र है.  आरोप लगा है कि यूपी के सुल्तानपुर से बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने एक लड़की के साथ नज़दीकी रिश्ते बनाए . उस लड़की के साथ वरुण के सीडी और फोटो होने की बात भी कही जा रही है. कहा जा रहा है कि वरुण गांधी ने उस लड़की के जाल में फंसकर देश की सुरक्षा से जुड़ी अहम जानकारी हथियार डीलरों को लीक कर दी.

ये आरोप किसी हल्के फुल्के शख्स ने नहीं लगाया है बल्कि. स्कॉर्पिन पनडुब्बी मामले में व्हिसलब्लोअर एडमंड्स एलन ने सीधे मोदी को एक चिट्ठी लिखकर आरोप लगाया है. एलन ने कहा है कि आर्म्स डीलर अभिषेक वर्मा ने वरुण को हनीट्रैप में फंसाकर खुफिया जानकारियां हासिल कीं. जाहिर है वरुण गांधी  और अभिषेक वर्मा ने इन आरोपों को गलत बताया है. वर्मा ने संबंधित ईमेल्स और तस्वीरों को मनगढ़ंत करार दिया है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में हुआ खुलासा

स्वराज अभियान के नेता प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक चिट्ठी जारी की. यह 16 सितंबर को लिखी गई थी. इसमें बताया गया है कि संवेदनशील जानकारी लेने के लिए वर्मा डिफेंस कंसल्टेटिव कमेटी के मेंबर वरुण गांधी को ब्लैकमेल कर रहे हैं. भूषण ने बताया कि एलन ने सबूत के तौर पर दर्जनों फोटोग्राफ्स और सीडी पीएमओ के पास भेजी हैं. उन्होंने वर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग भी की. वरुण का

आरोपी वरुण और अभिषेक की सफाई

बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने कहा है कि वे 2004 से वर्मा से नहीं मिले. उन्होंने कहा, आख़िरी बार वर्मा से मुलाकात के वक्त उनकी उम्र 22 साल थी. वे वर्मा को एक सांसद के बेटे के तौर पर जानते थे.

वैसे भी कंसल्टेटिव कमेटी मेंबर्स को डिफेंस से जुड़ी कोई संवेदनशील जानकारी नहीं बताई जाती. वरुण ने कहा कि वे भूषण और यादव के खिलाफ मानहानि का केस करेंगे.

बता दें कि एडमंड्स एलन अमेरिकी वकील हैं. पहले अभिषेक वर्मा और एडमंड्स साझीदार थे. राफेल डील पर प्रशांत ने उठाए सवाल. प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने राफेल डील पर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि सरकार ने 126 एयरक्राफ्ट खरीदने की घोषणा की थी. लेकिन खरीदे सिर्फ 36. वह भी दोगुनी कीमत पर. 3.4 माह में कीमत दोगुनी कैसे हो गई? इसमें जरूर कुछ गड़बड़ है. इसकी जांच हो.