इस लड़की का दुख देखकर भगवान से आपका भरोसा उठ जाएगा

इस लड़की का दुख देखकर भगवान से आपका भरोसा उठ जाएगा




ये कहानी बेहद अभागी लड़की की है, शादी के ठीक दो दिन बाद उसके पति ने उसे छोड़ दिया, दूसरी शादी हुई तो तो पति ने देह व्यापार में धकेल दिया. इस लड़की का जीवन बेहद ऐशो आराम में बीता, पिता बैंक मैनेजर थे. और वो दिल्ली के बेहद पॉश द्वारका में रहती थी. दूसरे पति ने उसे पराये मर्दों के साथ सोने के लिए दबाव डाला लड़की ने किसी तरह भागकर आपनी जान बचाई और बिहार के भागलपुर थाने में रिपोर्ट लिखाई.

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया दिल्ली के एक पूर्व मैनेजर की बेटी को उसके पति ने ही वेश्यावृत्ति में धकेल दिया. युवती दलालों के जरिये भागलपुर पहुंची और किसी तरह चकमा देकर थाने पहुंचकर पुलिस को सूचना दी. बहरहाल, पुलिस ने इस मामले में एक महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

भागलपुर शीतला स्थान दाल मिल रोड स्थित एक किराए के मकान में उससे वेश्यावृत्ति कराया गया. वहां से किसी तरह भागकर वह नाथनगर थाने पहुंची और उसकी सूचना पर पुलिस ने तीन आरोपियों को धर दबोचा.

एसएसपी ने बताया कि युवती की सूचना पर नाथनगर पुलिस ने छापेमारी कर धंधे में शामिल गुंजन चौबे, संतोष चौबे और एक महिला को गिरफ्तार किया. आरोपियों के घर से विदेशी शराब की खाली बोतल, शक्तिवर्धक दवा, बैंक पासबुक, पैनकार्ड आदि भी बरामद किए गए. ये आरोपी सिलाई सेंटर की आड़ में डेढ़ साल से वेश्यावृत्ति का धंधा करते थे.

एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की संपत्ति की जांच की जाएगी. अभी तक की जांच में पता चला कि आरोपियों द्वारा प्रतिमाह 40 से 50 हजार रुपये बैंक में जमा कराए जाते थे. 10 हजार रुपये महीना किराया देकर चार कमरे का एक फ्लैट लेकर रहते थे. एक सिलाई सेंटर से इतनी कमाई नहीं हो सकती. लोगों को शक न हो, इसलिए सिलाई सेंटर का बोर्ड लगाया गया था.

खुद को मीडियाकर्मी बताता है मणिकांत

एसएसपी ने बताया कि अब तक की जांच में पता चला है कि युवती के पति के विरुद्ध पूर्व में भी इसी तरह का आरोप पत्र दाखिल हुआ था. शंभूगंज निवासी मणिकांत उर्फ धन्नो युवती के साथ पटना, रांची और भागलपुर में भी मौजूद था. वह खुद को मीडियाकर्मी बताता है. मणिकांत ने युवती को बताया था कि उसने उसे 30 हजार में खरीदा है. उसकी तलाश की जा रही है.

पटना पुलिस पहुंची भागलपुर.

भागलपुर पुलिस की सूचना पर शास्त्रीनगर पटना की पुलिस भागलपुर पहुंच चुकी है. युवती के बयान पर आरोपियों के विरुद्ध भागलपुर में भी प्राथमिकी दर्ज कराई जा रही है. मेडिकल जांच के बाद युवती का कोर्ट में बयान दर्ज करवाया जाएगा. इसके बाद उसे पटना पुलिस के हवाले किया जाएगा.

शादी के बाद शिवपाल अपनी पत्नी को पटना के शास्त्रीनगर में उर्मिला देवी के घर में किराया लेकर रहा. कुछ दिनों बाद उर्मिला देवी की ही मदद से शिवपुरी कॉलोनी में मकान किराये पर ले लिया और उर्मिला देवी ने उसे देह व्यापार के दलदल में ढकेल दिया. उसे जबरन कई सफेदपोश लोगों को परोसा जाने लगा.

इस बीच पति के जेल जाने के कारण वह विवश हो गयी और रांची,पटना,भागलपुर समेत कई स्थानों पर परोसा जाने लगा और लगातार वह दलदल में फंसती चली गयी.

युवती ने बताया कि इस दौरान उसे तीन लोगों को बेचा गया. सिलाई सेन्टर में उन्हें रखकर धंधा करवाया जा रहा था. इसी क्रम में एक युवक से उनकी बातचीत हुई और उनसे इस दलदल से निकालने की गुहार लगायी तो उक्त युवक ने नाथनगर पुलिस को सूचना दी जिसके बाद उसे मुक्त कराया गया.