वानखेड़े स्टेडियम के बाहर हंगामा करने के मामले में बच गए शाहरुख

वानखेड़े स्टेडियम के बाहर हंगामा करने के मामले में बच गए शाहरुख




मुंबई:  बॉलीवुड में बादशाह खान के नाम से मशहूर शाहरुख खान को वानखेड़े स्टेडियम विवाद में आखिरकार क्लीन चिट मिल गई है। मुंबई पुलिस ने उन्हें क्लीन चिट देते हुए कहा कि शाहरुख खान के खिलाफ साल 2012 में एक आईपीएल मैच के बाद वानखेड़े स्टेडियम में हुए विवाद के मामले में कोई ‘संज्ञेय’ अपराध नहीं बनता. शाहरुख के शराब पीकर हंगामा मचाने की बात से भी पुलिस ने इनकार कर दिया.
अदालत में हाल ही में दाखिल एक पुलिस रिपोर्ट में बताया गया – ‘जांच के बाद पाया गया कि कोई संज्ञेय अपराध नहीं हुआ.’ एक स्थानीय कार्यकर्ता ने अदालत में घटना को लेकर एक निजी शिकायत दर्ज कराई है. उसने स्टेडियम में सुरक्षाकर्मियों के साथ कथित दुर्व्‍यवहार मामले में शाहरुख के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की है.
शाहरुख ने पुलिस को बताया था कि उस दिन उनकी टीम कोलकाता नाइट राइडर्स ने मैच जीता था और उनके बच्चे तथा उनके मित्र मैदान में चले गए. सुरक्षा गार्ड विकास दलवी ने उन्हें वहां से जाने को कहा.
एसआरके के अनुसार, उन्होंने दलवी को बताया कि बच्चे उनके साथ हैं और कोई उन्हें हाथ न लगाए. उनके बिजनेस मैनेजर बच्चों को स्टेडियम के बाहर ले गए. अभिनेता ने पुलिस को बताया था कि किसी ने उनके लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था, जिससे वह आपा खो बैठे थे.