बीजेपी वाले राज्यों से ही क्यों भागते हैं आतंकवादी? 

बीजेपी वाले राज्यों से ही क्यों भागते हैं आतंकवादी? 

​भोपाल: राष्ट्रवादी बीजेपी के  शासन वाले राज्यों की जेल से जितने आतंकवादी भाग रहे हैं उतने तो कश्मीर की जेलों से भी नहीं भागते. पहले मध्यप्रदेश की खंडवा जेल से  7 सिमी आतंकवादी भागे थे.  अब भोपाल जेल से एक दो नहीं 8 सिमी आतंकी भाग गए हैं. उन्होंने जेल के एक गार्ड की हत्या भी कर दी. यह घटना रविवार रात की है. अब शिवराजसिंह पूर्व डीजीपी से जांच करवाने की बातसकह रहे हैं. 

बताया जा रहा है कि करीब दो बजे ड्यूटी पर तैनात गार्ड रमा शंकर की आतंकवादियों ने हत्या की. हत्या के लिए आतंकियों ने कोई धारदार वस्तु का इस्तेमाल किया. और फिर चादर या फिर कंबलों के सहारे जेल की दीवार फांद कर फरार हो गए.

भोपाल के डीआईजी रमन सिंह ने बताया, ‘‘सिमी के आठ कार्यकर्ता तड़के करीब दो से तीन बजे के बीच एक सुरक्षा गार्ड की हत्या करने के बाद जेल से फरार हो गए.’’ उन्होंने बताया कि ‘द स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया’ के कार्यकर्ताओं ने एक सुरक्षा गार्ड की हत्या कर दी और उसके बाद वे चादरों की मदद से जेल की दीवार लांघ कर वहां से फरार हो गए.

डीआईजी ने बताया कि उन्होंने पहले गार्ड को घेर कर अपने कब्जे में लिया और फिर स्टील की प्लेट से उसका गला काट कर उसे मार डाला. उन्होंने बताया कि विस्तृत जानकारी अभी आनी बाकी हैं. फरार सिमी कार्यकर्ताओं की खोज के लिए अभियान शुरू कर दिया गया है.
तीन साल पहले सात कैदी, जो कि प्रतिबंधित आतंकी संगठन सिमी से ही संबंधित थे, खांडवा की जेल से फरार हो गए थे. यहां पर ये आतंकी जेल के बाथरूम की दीवार तोड़कर फरार हुए थे. खांडवा भोपाल से करीब 280 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.