सर्जीकल स्ट्राइक पर पाकिस्तान का झूठ सामने आया, पाक पुलिस अधीक्षक बोला- हुई थी सर्जिकल स्ट्राइक

नई दिल्ली: भारतीय सेना द्वारा एलओसी के पार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादियों के लॉन्च पैड पर किए गए सर्जिकल स्ट्राइक में कई आतंकवादियों के साथ कम से कम पांच पाकिस्तानी सैनिक भी मारे गए थे. समाचार चैनल सीएनएन न्यूज18 ने बुधवार को पाकिस्तान के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के खुलासे के हवाले से यह जानकारी दी है.

भारत द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक की बात कहने के लगभग एक हफ्ते बाद टेलीविजन चैनल ने दावा किया है कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने चैनल के इनवेस्टिगेशन एडिटर मनोज गुप्ता से टेलीफोन पर भारतीय सेना के एक-एक दावे की तस्दीक की. चैनल के मनोज गुप्ता ने उस पाकिस्तानी अधिकारी के उच्चाधिकारी बनने का नाटक कर उससे सारी जानकारी उगलवाई.

मीरपुर रेंज के पुलिस अधीक्षक (विशेष शाखा) गुलाम अकबर को रिकॉर्डिग में यह कहते हुए साफ सुना जा सकता है कि 29 सितंबर की रात कई सेक्टरों में सर्जिकल स्ट्राइक हुए थे. गुप्ता के साथ टेलीफोन पर बातचीत के दौरान, उसने साफ तौर पर कहा कि पाकिस्तानी अधिकारियों को भारतीय हमले की भनक तक नहीं लगी और पांच सैनिक मारे गए, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने कई आतंकवादियों के शवों को वहां से तुरंत हटाया. चैनल ने कहा है कि उसके पास मारे गए सैनिकों के नाम भी हैं.

सीएनएन न्यूज18 के मनोज गुप्ता ने पुलिस महानिरीक्षक मुश्ताक बनकर अकबर को फोन किया और उस रात हुई क्षति की उससे जानकारी मांगी. इसके बाद अकबर ने उस रात जिन-जिन इलाकों में हमले हुए, उसकी पूरी कहानी बयान कर डाली. उसने कहा कि उस रात भीमबेर के समाना, पुंछ के हाजिरा, नीलम के दूधनियाल तथा हथियान बाला के कायानी में हमले हुए. उसने कहा कि भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक के तत्काल बाद पाकिस्तानी सेना ने पूरे इलाके की घेरेबंदी कर दी.

पाकिस्तानी पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पाकिस्तानी सेना शवों को एंबुलेंस में डालकर ले गई. उसने कहा कि कई को गांव में ही दफन कर दिया गया.

टेलीविजन चैनल ने दावा किया कि अकबर ने डायरेक्टर जनरल मिलिट्री ऑपरेशन (डीजीएमओ) लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह के एक-एक बयान की भी तस्दीक की. रणबीर सिंह ने 29 सितंबर को हुए संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि भारत ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादियों के लॉन्च पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया है, जिसमें आतंकवादियों को भारी नुकसान हुआ है.

भारत ने आधिकारिक तौर पर यह घोषणा नहीं की है कि सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान कितने आतंकवादी मारे गए थे. केंद्र सरकार ने बस इतना कहा कि कई आतंकवादियों को मार गिराया गया. इस्लामाबाद ने हालांकि भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को खारिज करते हुए कहा कि उस रात सीमा पर भारत की तरफ से गोलीबारी में दो पाकिस्तानी सैनिकों की मौत हुई.

अकबर ने सर्जिकल स्ट्राइक के समय तक की पुष्टि करते हुए कहा, ‘सर, वह रात का समय था. रात दो बजे से सुबह चार या पांच बजे तक तकरीबन 3-4 घंटे तक हमला होता रहा.’ उसने कहा, ‘अलग-अलग जगहों पर हमले हुए. उन्हें प्रतिरोध का भी सामना करना पड़ा.’

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें