निकाले जाने से पहले ही सचिन ने ले लिया संन्यास, खुलासे के बाद निशाने पर संदीप पाटिल

निकाले जाने से पहले ही सचिन ने ले लिया संन्यास, खुलासे के बाद निशाने पर संदीप पाटिल

अगर सचिन तेंदुलकर संन्यास न लेते तो टीम से निकाल दिए गए होते. ये खुलासा किसी ओर ने नहीं बल्कि टीम के सेलेक्टर रहे संदीप पाटिल ने किया है. एबीवी न्यूज़ पर एक कार्यक्रम के दौरान संदीप पाटिल ने ये बात कही. उन्होंने धोनी के रिटायरमंट से जुड़ा भी एक बड़ा खुलासा किया. संदीप पाटिल ने कहा था कि वो विश्व कप 2015 से पहले धोनी को वनडे कप्तानी से हटाने पर विचार कर रहे थे. सचिन ने 2014 में क्रिकेट से संन्यास लिया था. धोनी ने इसी साल अप्रैल में वनडे से रिटायरमेंट लिया था. दोनों के रिटायरमेंट के वक्त संदीप पाटिल ही बीसीसीआई के चीफ सेलेक्टर थे.

संदीप पाटिल के पास जो जिम्मेदारी थी उसके पूरा होने के बाद बीसीसीआई उम्मीद कर रहा था कि वो बीसीसीआई के राज, राज रहने देंगे लेकिन संदीप पाटिल ने 21 सितंबर को एबीपी न्यूज से दिल की बात की तो सामने आ गया दो दिग्गज क्रिकेट हस्तियों के संन्यास का सच. संदीप पाटिल का दिल से बोलना और सच बोलना बीसीसीआई को अखर गया है. बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने संदीप पाटिल के खुलासे को अनैतिक करार दिया है.

अनुराग ठाकुर ने कहा, “संदीप पाटिल को चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष होने के नाते ऐसी टिप्पणियां नहीं करनी चाहिए थी. जब वो अध्यक्ष थे तब वो इन सवालों के अलग जवाब देते थे. कार्यकाल पूरा होने के बाद उन्होंने अलग जवाब देकर अनैतिक काम किया है. संदीप पाटिल ने गोपनीयता का उल्लंघन किया है. भविष्य में पाटिल पर भरोसा करना मुश्किल होगा. कोई भी संगठन उनकी सेवाएं लेने से पहले 10 बार सोचेगा कि संगठन को छोड़ने के बाद वो क्या बात करेंगे.”

अनुराग ठाकुर की कड़े बयान के बाद संदीप पाटिल का पक्ष अभी नहीं आया है. संदीप पाटिल इस समय एबीपी न्यूज के क्रिकेट एक्सपर्ट हैं और भारत न्यूजीलैंड क्रिकेट सीरीज को लेकर अपनी राय एबीपी न्यूज़ पर दे रहे हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम इंडिया खेल रही है वो संदीप पाटिल ने ही चुनी थी और उसके बाद उनके 3 साल का कार्यकाल खत्म हो गया था.

ctsy- ABP News