राशन कार्ड बनवाने से बदल कर ऐसे हो गया नौकरी दिलाने के नाम पर सैक्स का केस

राशन कार्ड बनवाने से बदल कर ऐसे हो गया नौकरी दिलाने के नाम पर सैक्स का केस




संदीप कुमार मामले में दिल्ली पुलिस अब किसी भी तरह संदीप कुमार को जेल में डाल देने पर उतारू है. आज दिल्ली पुलिस ने संदीप के वकीलों को चकमा दिया और उसकी तीन दिन की बेल और बड़ी ही चतुराई से हासिल कर ली. संदीप कुमार को कल रोहिणी कोर्ट से 1 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया था. आज जब उसके वकील रोहिणी कोर्ट में जमानत की तैयारी से पहुंचे तो पता चला कि संदीप को तीस हज़ारी कोर्ट में पेश कर दिया गया है. पुलिस ने महिला का एक नया बयान जांच मे शामिल किया है जिसमें वो नौकरी के लिए शारीरिक संबंध बनाने की बात कर रही है. इस आधार पर पुलिस ने बलात्कार के मामले में भ्रष्टाचार का मामला बना दिया . करप्शन के मामले की सुनवाई तीस हजारी कोर्ट में होती है. 30 हजारी कोर्ट में संदीप का कोई वकील था नहीं . जबतक उसके वकील पहुंचते दिल्ली पुलिस को 3 दिन की पुलिस कस्टडी मिल गई थी.

संदीप के वकील ने नितिन अहलावत ने इस पर नाराज़गी जताई. उन्होंने कहा कि पुलिस ने उन्हें नहीं बताया था की कोर्ट आज बदली जा रही है. साथ ही वकील ने बताया की लड़की के बयान बारबार बदल रहे हैं और विरोधाभासी है. ये गंभीर है.लिहाज़ा इस मामले मे जांच जरुरी है. उधर रोहिणी कोर्ट में आज दिल्ली पुलिस ने दोबारा संदीप कुमार की रिमांड माँगी. पुलिस ने कोर्ट को बताया कि संदीप जाँच में सहयोग नहीं कर रहे है और मामले की जांच के लिए उनकी कस्टडी बढाया जाना जरुरी है.