4 लोगों के परिवार का सुसाइड, करप्शन के एक केस ने तबाह कर दिया परिवार

4 लोगों के परिवार का सुसाइड, करप्शन के एक केस ने तबाह कर दिया परिवार

रिश्वत लेने के आरोपों में घिरे कॉरपोरेट मामलों के पूर्व डायरेक्टर जनरल बीके बंसल ने मंगलवार को अपने बेटे के साथ खुदकुशी कर ली. इससे पहले उनकी पत्नी और बेटी ने भी आत्महत्या कर ली थी. दोनों ने पूर्वी दिल्ली स्थित नीलकंठ अपार्टेमेंट के अपने प्लैट में फांसी लगाकर जान दी.

कॉर्पोरेट अफेयर मंत्रालय में डीजी के पद पर तैनात रहे आईएएस अधिकारी बीके बंसल ने अपने बेटे के साथ घर के अंदर फांसी लगा ली. इससे करीब 3 महीने पहले ही उनकी पत्नी और बेटी ने भी घर में फांसी लगाकर ख़ुदकुशी की थी.

रिश्वत मामले में बंसल को सीबीआई ने गिरफ़्तार किया था. उसी के ठीक बाद उनकी पत्नी और बेटी ने जान दी थी. और मंगलवार की सुबह बीके बंसल और उनका बेटा भी घर में फांसी पर लटके पाए गए.

गौरतलब है कि बंसल को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया था और उनके साथ दो और लोगों को भी हिरासत में लिया गया था. बंसल के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट 1988 के तहत मामला दर्ज किया गया था.

रिश्वत लेने के मामले में केंद्रीय कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय में महानिदेशक बीके बंसल को पटियाला हाउस कोर्ट से जमानत मिल गई थी. 17 जुलाई को केंद्रीय जांच ब्यूरो ने बंसल को गिरफ्तार किया था.

सीबीआई ने बंसल के दिल्ली स्थित 6 और मुंबई स्थित 2 ठिकानों पर छापे मारकर अन्य आपत्तिजनक चीजों के अलावा लगभग 54 लाख रुपये भी बरामद करने का दावा किया था.