बम से कम नहीं है गैलेक्सी नोट -7, एक के बाद एक हो रहे हैं धमाके, फ्लाइट में भी रोक

बम से कम नहीं है गैलेक्सी नोट -7, एक के बाद एक हो रहे हैं धमाके, फ्लाइट में भी रोक




सैमसंग का नया गैलेक्सी नोट-7 स्मार्टफोन खतरनाक साबित हो सकता है. फोन को चार्ज करने के दौरान आग लगने की घटनाओं के बाद सभी संवेदनशील जगहों पर इसे ले जाने में सावधानी बरती जा रही है. यही वजह है कि विमानन नियामक डीजीसीए ने हवाई सफर के दौरान इस मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर पाबंदी लगा दी है. अमेरिकी विमानन सुरक्षा नियामक फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने इस संबंध में सबसे पहले चेतावनी जारी की.
इसके बाद डीजीसीए की ओर से भी कहा गया कि यात्री सफर के दौरान इस फोन को चार्ज या चालू न करें. यह भी सुझाव दिया गया है कि यात्री किसी चेक किए गए बैगेज में गैलेक्सी नोट 7 मोबाइल फोन को न रखें. विमानों के परिचालन और यात्रियों की सुरक्षा की दृष्टि से ऐसा किया गया है. सैमसंग इंडिया के प्रवक्ता ने कहा कि वह डीजीसीए के नोटिस से अवगत हैं. उपभोक्ता की सुरक्षा और मन की शांति कंपनी की सवरेच प्राथमिकता है. गैलेक्सी नोट 7 की बिक्री भारत में नहीं शुरू हुई है. सुरक्षा चिंताओं को दूर करने के लिए इसकी बिक्री यहां लंबित की गई है.

पिछले हफ्ते ही सैमसंग ने गैलेक्सी नोट 7 का रिकॉल जारी किया था .यानी कंपनी ने खराब फोन ग्राहकों से वापस मंगाए थे . फोन चार्ज करने के दौरान बैटरी में विस्फोट होकर आग लगने की कई घटनाएं सामने आने के बाद कंपनी ने ऐसा किया था. सैमसंग दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी है. लांचिंग के महज दो हफ्तों में कंपनी ने दक्षिण कोरिया और अमेरिका सहित दस देशों से ढाई लाख स्मार्टफोन वापस मंगाए हैं. इन्हें नए नोट 7 फोन से बदला जाएगा. सैमसंग इस स्मार्टफोन में आग लगने के 35 मामलों की पुष्टि कर चुकी है. फिलहाल विमानन नियामकों की चेतावनी ने कंपनी का सिरदर्द बढ़ा दिया है, जो पहले ही दुनियाभर में स्मार्टफोन बदलने के लिए संघर्ष कर रही है. कुछ अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस पहले ही यात्रियों को विमान पर इन उपकरणों को इस्तेमाल करने से रोकने के लिए कदम उठा चुकी हैं.